Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

महाराष्ट्र: रत्नागिरी में बांध टूटने से आई बाढ़, 9 की मौत तो 18 से ज्यादा लोग लापता, दर्जनभर मकान पानी में बहे

मूसलाधार बारिश के कारण मुम्बई में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है. मुंबई में आज भी भारी बारिश का अलर्ट है. वहीं हाई टाइड की भी आशंका जताई गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. भारी बारिश का कहर
  2. कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात
  3. राहत एवं बचाव कार्य जारी
मुंबई:

महाराष्ट्र के रत्नागिरी में तिवारे बांध टूटने की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. इस हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई है, उनके शव बरामद कर लिए गए हैं. वहीं 18 लोग लापता बताए जा रहे हैं. 12 मकान पानी में बह गए हैं. इसकी चपेट में सात गांव आए हैं. राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की टीम पुहंच गई है. बता दें, मूसलाधार बारिश के कारण मुम्बई में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है. बारिश के कारण वित्तीय राजधानी जगह-जगह जलमग्न है और शहर में दीवार गिरने की एक घटना में 22 लोगों की जान चली गई.

अधिकारियों ने बताया कि शेष महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में बारिश से संबंधित घटनाओं में 14 अन्य लोगों की मौत हो गई. रविवार से हो रही भारी बारिश के कारण मुंबई में रेल, वायु और सड़क यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुआ. कई ट्रेनों और विमानों को रद्द करना पड़ा. मौसम विभाग के भारी बारिश के पूर्वानुमान के बाद सरकार ने मंगलवार को सार्वजनिक अवकाश घोषित करते हुए लोगों को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी.

Mumbai Rains: मूसलाधार बारिश से मुम्बई बेहाल, महाराष्ट्र में 36 हुई मरने वालों की संख्या


वहीं, उत्तरी उपनगर मलाड में भारी बारिश के बाद मंगलवार तड़के एक दीवार ढहने से 21 लोगों की मौत हो गई और 78 लोग घायल हुए हैं. मंगलवार की रात घायल एक और व्यक्ति की मौत के साथ कुल 22 लोगों की जान जा चुकी है . इस संबंध में एक वरिष्ठ सिविक अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि घायलों को सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया और उनमें से 15 को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई. वहीं, मलबे में फंसी 15 वर्षीय लड़की को करीब 12 घंटे बाद बाहर निकाला गया लेकिन उसने दम तोड़ दिया.    मलाड में एक कार में पानी भरने से उसमें फंसे दो लोगों की मौत हो गई. विले पार्ले में एक व्यक्ति को करंट लग गया और उपनगर मुलुंड में दीवार गिरने से एक सुरक्षा गार्ड की मौत हो गई. 

0kmjpj18

मुंबई में बरसात की रात की दो कहानियां: कहीं फिसला विमान तो कहीं लोगों ने लोकल ट्रेन में गुजारी पूरी रात

वहीं, पुणे के अम्बेगांव इलाके में सोमवार देर रात एक शैक्षणिक संस्थान की दीवार उसके पास बनी अस्थायी झोंपड़ियों पर गिरने से छह श्रमिकों की मौत हो गई. मंगलवार तड़के ठाणे जिले के कल्याण में एक दीवार गिरने से तीन लोगों की जान चली गई. बुलढाणा जिले में आकाशीय बिजली गिरने से 52 वर्षीय महिला की मौत हो गई. खराब मौसम के चलते मुम्बई के ‘छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर 54 विमानों को दूसरी जगह भेजना पड़ा और 52 उड़ानें रद्द कर दी गईं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने बीएमसी आपदा नियंत्रण कक्ष का दौरा किया और स्थानीय निकाय अधिकारियों के साथ स्थिति का जायजा लिया. फड़णवीस ने बीएमसी और मुंबई पुलिस अधिकारियों के साथ रेलवे, सड़क यातायात और ऐसे क्षेत्रों की समीक्षा की, जहां अधिक ध्यान और सहायता की आवश्यकता है.   

रवीश कुमार का ब्लॉग: भारी बारिश से क्‍यों नहीं निपट पाती मुंबई?

साथ ही फड़णवीस ने कहा, ‘मौसम विभाग के भारी बारिश संबंधी परामर्श के तहत एहतियाती तौर पर मंगलवार को सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया गया. हमें अगले दो दिनों तक सतर्क रहने की आवश्यकता है.'

दिल्लीवासियों के लिए खुशखबरी, मिल सकती है गर्मी से राहत, जानें- अगले 7 दिन कैसा रहेगा मौसम

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि शहर में लगातार बारिश के कारण, चुनाभट्टी रेलवे स्टेशन और वकोला रोड के पास एयरपोर्ट कॉलोनी, वकोला जंक्शन, पोस्टल कॉलोनी में पानी भरने की जानकारी मिली है. उन्होंने बताया कि मीठी नदी के उफान पर होने के कारण किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए 1000 से अधिक लोगों को क्रांति नगर, कुर्ला से हटाया गया है.

(इनपुट- एजेंसियां)

Mumbai Rains: 24 घंटे की बारिश ने तोड़ा एक दशक का रिकॉर्ड, घरों में रहने की हिदायत- 10 खास बातें

टिप्पणियां

Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : क़ुदरत के निशाने पर आ गई है मुंबई, बारिश और चक्रवात का ख़तरा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... मेलानिया ट्रंप के 'हैप्पीनेस क्लास' देखने के दौरान केजरीवाल-सिसोदिया की गैरमौजूदगी को लेकर अमेरिका का आया यह बयान...

Advertisement