NDTV Khabar

EVM के विरोध में एकजुट हुए विपक्ष के नेता, पहली बार राज ठाकरे कांग्रेस के साथ

महाराष्ट्र में करीब सभी विपक्षी दलों ने विधानसभा चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से मतदान कराने का विरोध किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. पहली बार साथ कांग्रेस और एमएनएस के नेता साथ-साथ
  2. विपक्षी दलों की बैठक से प्रकाश आंबेडकर ने बनाई दूरी
  3. विपक्ष की पार्टियां 21 अगस्त को रैली भी निकालेंगी
मुंबई:

महाराष्ट्र के विपक्षी पार्टियों के सभी नेता ईवीएम के विरोध और बैलट पेपर से चुनाव कराए जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को एक मंच पर नजर आए. इन नेताओं ने ईवीएम पर जनता का भरोसा नहीं होने के कारण बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग की. विपक्ष के नेताओं ने अपनी मांग को लेकर 21 अगस्त को एक रैली भी निकालने की बात कही. इस विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस, एनसीपी, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना, स्वाभिमानी शेतकरी संघटना सहित महाराष्ट्र के करीब सभी विपक्षी दलों के नेता एकजुट दिखे.
 
विपक्ष की मांग है कि महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनाव बैलेट पेपर से कराया जाए. हाल ही में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष व पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी से मिलकर लौटे महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) प्रमुख राज ठाकरे ने दावा किया कि ज़्यादातर वोटरों को ईवीएम पर भरोसा नहीं है. राज ठाकरे ने ईवीएम को लेकर बीजेपी-शिवसेना पर भी हमला बोला.

लोकसभा चुनाव के समय बीजेपी के खिलाफ राज्य भर में प्रचार करने वाले राज ठाकरे पहली बार कांग्रेस के नेताओं के साथ मंच साझा करते हुए देखे गए. एनसीपी पहले से ही एमएनएस को अपने गठबंधन में शामिल करने के पक्ष में रही है.  हालांकि एमएनएस को गठबंधन में शामिल करने पर कांग्रेस की ओर से अब तक कोई सीधा जवाब नहीं दिया गया है.


महाराष्ट्र में विपक्ष निकालेगा मार्च, नारा दिया 'ईवीएम भारत छोड़ो'

विपक्ष की इस एकजुटता से भारिप बहुजन महासंघ के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने दूरी बनाए रखी. इससे एक बार फिर यह साफ हो गया कि वे विपक्ष के साथ नहीं आ रहे हैं.

टिप्पणियां

VIDEO : विपक्षी दल 9 अगस्त को विरोध प्रदर्शन करेंगे



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement