कंगना रनौत को Y+ सिक्योरिटी मिलने पर TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने उठाए सवाल, पूछा- ये बॉलीवुड ट्विटराटियों को क्यों...

तृणमूल कांग्रेस महुआ मोइत्रा ने सोमवार को बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रानौत को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिलने के बाद केंद्र सरकार पर हमला बोला. इस कदम पर महुआ ने 'स्रोतों के बेहतर इस्तेमाल' को लेकर सवाल उठाए.

कंगना रनौत को Y+ सिक्योरिटी मिलने पर TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने उठाए सवाल, पूछा- ये बॉलीवुड ट्विटराटियों को क्यों...

कंगना रानौत को Y+ सिक्योरिटी मिलने पर TMC नेता ने उठाए सवाल. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कंगना रानौत को मिली Y+ सिक्योरिटी
  • महुआ मोइत्रा ने उठाए सवाल
  • केंद्र सरकार पर बोला हमला
नई दिल्ली:

तृणमूल कांग्रेस की नेता महुआ मोइत्रा (TMC Leader Mahua Moitra) ने सोमवार को बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रानौत (kangana Ranaut) को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा (Y+ Security) मिलने के बाद केंद्र सरकार पर हमला बोला. इस कदम पर महुआ ने 'स्रोतों के बेहतर इस्तेमाल' को लेकर सवाल उठाए. कंगना रानौत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से लगातार महाराष्ट्र की शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी की महगठबंधन की सरकार पर हमले बोल रही हैं. टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा ने कंगना पर तीखा हमला करते हुए उन्हें अपने ट्वीट में 'बॉलीवुड ट्विटराटी' के नाम से बुलाया.

महुआ ने अपने ट्वीट में लिखा, 'ये बॉलीवुड ट्विटराटियों को Y+ सिक्योरिटी क्यों मिल रही है, जब भारत में पुलिस प्रति व्यक्ति का अनुपात 1:138 है और भारत 71 देशों में शामिल आखिरी पांच देशों में आता है? स्रोतों का कोई और बेहतर इस्तेमाल नहीं है, माननीय गृहमंत्री जी?'

बता दें कि कंगना रनौत सुशांत सिंह की मौत को लेकर लगातार मुंबई पुलिस पर हमला कर रही हैं. सोमवार को उन्हें CRPF (Central Reserve Police Force) की सुरक्षा दी गई. ऐसी सुरक्षा पाने वाली वो पहली बॉलीवुड स्टार बन गई हैं. कंगना की सुरक्षा में एक पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर और कमांडोज़ सहित 11 हथियारबंद पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे. इस श्रेणी की सुरक्षा चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबडे और केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को मिली हुई है.

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत के 'कमेंट' को लेकर महाराष्‍ट्र के CM उद्धव ठाकरे ने कसा तंज, 'कुछ लोग उस शहर..'

फिलहाल, कंगना रानौत हिमाचल प्रदेश में अपने घर पर हैं. उन्होंने कहा था कि उन्हें वर्तमान की महाराष्ट्र सरकार के दौरान मुंबई में रहने में डर लगता है. जिसके बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने जवाब देते हुए कहा था कि अगर उन्हें डर लगता है तो उन्हें मुंबई नहीं आना चाहिए. राउत के इस बयान पर कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से करके विवाद शुरू कर दिया था. उसके बाद से ही शिवसेना और कंगना के बीच विवादों का दौर चल रहा है.

केंद्र की ओर से कंगना को सिक्योरिटी दिए जाने के फैसले को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री अनिल देशमुख ने हैरानीभरा और निराशाजनक बताया है. न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, उन्होंंने कहा था कि 'मुंबई और महाराष्ट्र का अपमान करने वाले लोगों को केंद्र की ओर से सुरक्षा दिया जाना हैरानीभरा और दुखजनक है. यह राज्य सबका है, बीजेपी का भी. कंगना रानौत के बयान की निंदा सबको करनी चाहिए.'

Video: सिटी सेंटर: कंगना रनौत की सुरक्षा पर संग्राम

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com