असम राइफल्स के मेजर जनरल यौन उत्पीड़न के मामले में बर्खास्त, नहीं मिलेगी पेंशन

असम राइफल्स में सेवारत एक मेजर जनरल को यौन उत्पीड़न के मामले में बिना पेंशन के बर्खास्त कर दिया गया है. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मेजर जनरल आरएस जसवाल के खिलाफ कोर्ट मार्शल की कार्यवाही की पुष्टि की.

असम राइफल्स के मेजर जनरल यौन उत्पीड़न के मामले में बर्खास्त, नहीं मिलेगी पेंशन

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • असम राइफल्स के मेजर जनरल बर्खास्त
  • मेजर जनरल पर यौन उत्पीड़न का है आरोप
  • होगा कोर्ट मार्शल, नहीं मिलेगी पेंशन
नई दिल्ली:

असम राइफल्स में सेवारत एक मेजर जनरल को यौन उत्पीड़न के मामले में बिना पेंशन के बर्खास्त कर दिया गया है. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मेजर जनरल आरएस जसवाल के खिलाफ कोर्ट मार्शल की कार्यवाही की पुष्टि की, हालांकि आर्मी चीफ ने जुलाई में ही इस बाबत आदेश दे दिए थे. सेना के अधिकारियों ने न्यूज एजेंसी ANI को बताया कि, 'आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने यौन उत्पीड़न के मामले में मेजर जनरल को दी गई सजा की पुष्टि की है. सेना प्रमुख के फैसले से लेफ्टिनेंट जनरल एमजेएस कहलोन ने आज अंबाला में मेजर जनरल को अवगत कराया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

महिला आर्मी अफसर ने अपने सीनियर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया

बता दें कि पिछले साल दिसंबर में किए गए कोर्ट मार्शल में मेजर जनरल की बर्खास्तगी की शिकायत की गई थी. मालूम हो कि कथित यौन उत्पीड़न की घटना 2016 के अंत में उस समय हुई थी जब आरोपी मेजर जनरल की सेना की पश्चिमी कमान के तहत चंडीमंदिर में तैनाती थी. ANI की रिपोर्ट के अनुसार, मेजर जनरल ने कैप्टन रैंक की महिला अधिकारी द्वारा उन पर लगाए गए आरोपों से इनकार किया था.