त्रिपुरा में यह भाजपा की जीत नहीं, माकपा के अहंकार की हार है : ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी के अजेय बहुमत के लिए उसे कोई श्रेय देने से इनकार किया है.

त्रिपुरा में यह भाजपा की जीत नहीं, माकपा के अहंकार की हार है : ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • ममता बनर्जी ने कहा त्रिपुरा में भाजपा की जीत नहीं माकपा की हार
  • उन्होंने कहा कि यह माकपा के अहंकार की हार है
  • उन्होंने दावा किया कि 2019 के आम चुनाव में BJP को करारी हार मिलेगी
कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी के अजेय बहुमत के लिए उसे कोई श्रेय देने से इनकार किया है. त्रिपुरा विधानसभा चुनाव के शनिवार को आए नतीजे के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि त्रिपुरा में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की हार हुई है. उन्होंने दावा किया भाजपा को आगामी 2019 के आम चुनाव में करारी हार मिलेगी. तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "त्रिपुरा में यह भाजपा की जीत नहीं है बल्कि माकपा की हार है. उसे अंहकार, अनैतिकता और पूरी तरह आत्मसमर्पण के कारण यह हार देखने को मिली है. उन्होंने (भाजपा) त्रिपुरा में पानी की तरह पैसा बहाया, ईवीएम के साथ गड़बड़ी की और बाहर से हजारों लोगों को लाए चुनाव के दौरान केंद्रीय बल का उपयोग अपने पक्ष में किया लेकिन माकपा चुप रही."

यह भी पढ़ें: त्रिपुरा: लेफ्ट फ्रंट का अबतक का सबसे खराब प्रदर्शन, पहली बार जीती थीं 60 में से 56 सीटें

उन्होंने कहा कि अगर माकपा ने आत्मसमर्पण नहीं किया होता तो तस्वीर कुछ अलग होती. ममता बनर्जी का यह बयान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की ओर से कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में सरकार बनाने का दावा करने के बाद आया है.

VIDEO: त्रिपुरा में पहली बार BJP सरकार, नागालैंड में भी 'भगवा' रंग
शाह ने कहा कि भाजपा का स्वर्ण युग कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में सरकार बनाने के साथ शुरू होगा और यह तय है कि भाजपा इन तीनों राज्यों में आने वाले दिनों में सरकार बनाएगी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com