ममता बनर्जी ने कांग्रेस और लेफ्ट पर साधा निशाना, कहा- जिनका राजनीतिक अस्तित्व नहीं वे कर रहे हैं बंद का समर्थन

बंद केंद्र की आर्थिक नीतियों, संशोधित नागरिकता कानून और प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी एनआरसी के विरोध में बुलाया गया है.

ममता बनर्जी ने कांग्रेस और लेफ्ट पर साधा निशाना, कहा- जिनका राजनीतिक अस्तित्व नहीं वे कर रहे हैं बंद का समर्थन

कोलकाता में बंद के दौरान हिंसा की खबरें सामने आईं हैं.

खास बातें

  • ट्रेड यूनियनों ने बुलाया देशव्यापी भारत बंद
  • बंगाल में दिखा बंद का सबसे ज्यादा असर
  • ममता बनर्जी ने बंद का किया विरोध
कोलकाता:

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने ट्रेड यूनियनों की 24 घंटे की देशव्यापी हड़ताल (Bharat Bandh) के समर्थन के लिए कांग्रेस और वाम दलों पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ''जिनका राजनीतिक तौर पर कोई अस्तित्व नहीं है वे लोग हड़ताल कर रहे हैं.'' उन्होंने कहा कि ये लोग बंद जैसी ओछी राजनीति करके यहां की अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने की कोशिश कर रहे हैं. बनर्जी ने कहा कि वह बंद के मकसद का समर्थन करती हैं, लेकिन उनकी पार्टी और सरकार किसी भी तरह के बंद के विरोध में हैं. 

JNU में हुए हमले पर ममता बनर्जी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा छात्रों पर की 'फासीवादी सर्जिकल स्ट्राइक'

ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘हम बंगाल में किसी तरह के बंद की इजाजत नहीं देंगे.'' बनर्जी ने कहा कि वे सीएए या एनआरसी के खिलाफ किसी बड़े आंदोलन से नहीं जुड़े हैं, न बंगाल में और न ही देश में कहीं और. 

JNU हिंसा पर बोलीं CM ममता बनर्जी- ये एक फासीवादी सर्जिकल स्ट्राइक, पहले कभी नहीं देखे ऐसे हालात

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गौरतलब है कि बंद केंद्र की आर्थिक नीतियों, संशोधित नागरिकता कानून और प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी एनआरसी के विरोध में बुलाया गया है.  बुधवार सुबह ही कोलकाता के कुछ हिस्सों से हिंसा की सूचना मिली. यहां एक पुलिस वाहन को निशाना बनाया गया और सीपीएम विधायक सुजन चक्रवर्ती को हिरासत में लिया गया . उत्तरी 24 परगना जिले में, वाम समर्थकों ने ट्रेड यूनियनों द्वारा हड़ताल के आह्वान का समर्थन करने के लिए सुबह "रेल रोको" विरोध का आयोजन किया . रेलवे पुलिस ने बताया कि पटरियों पर देशी बम मिले हैं. 
(इनपुट-भाषा)