NDTV Khabar

गोवा: खुद को UP का मंत्री बताकर 12 दिन से राज्य अतिथि घर में रह रहा था शख्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को सुनील का व्यवहार काफी अजीब लगा और इस वजह से उन्होंने इस बारे में गोवा पुलिस को जानकारी दी. सावंत ने संवाददाताओं से कहा, ''मैंने क्राइम ब्रांच से उसे गिरफ्तार करने के लिए कहा था.''

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोवा: खुद को UP का मंत्री बताकर 12 दिन से राज्य अतिथि घर में रह रहा था शख्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

यह शख्स पिछले 12 दिनों से गोवा के राज्य अतिथि घर में रह रहा था.

खास बातें

  1. फर्जी दस्तावेज दिखाकर शख्स ने खुद को बताया था यूपी का मंत्री
  2. पिछले 12 दिनों से गोवा के अतिथि घर में रह रहा था शख्स
  3. सीएम सावंत को शक होने के बाद पुलिस ने शख्स को किया गिरफ्तार
पणजी:

गोवा पुलिस (Goa Police) ने कथित तौर पर खुद को यूपी मंत्रीमंडल का मंत्री बताने वाले शख्स को गिरफ्तार किया है. यह शख्स पिछले 12 दिनों से राज्य अतिथि घर में नकली कागजात दिखा रहा था. गोवा अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि शख्स के साथ उसके चार साथियों को भी गिरफ्तार किया गया है. ये सभी राज्य गेस्ट हाउस में एक साथ रुके हुए थे. गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) द्वारा पुलिस को सतर्क किए जाने के बाद उन्होंने आरोपी सुनील सिंह को गिरफ्तार कर लिया है. 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में जन्मे व्यक्ति को गृह मंत्रालय ने नहीं दी गोवा यात्रा की अनुमति

मंगलवार को सुनील सिंह को पकड़े जाने से पहले वह लगभग 12 दिनों से राज्य अतिथि घर में रह रहा था. अधिकारियों ने बताया कि उसने मुख्यमंत्री से मुलाकात के लिए अपॉइंटमेंट भी मांगी थी. अधिकारी ने बताया, ''सुनील सिंह ने खुद को उत्तर प्रदेश सरकार से सहकारिता मंत्री बताया था और इसके कागजात भी दिखाए थे. इस वजह से उसे गोवा पुलिस द्वारा एक निजी सुरक्षा अधिकारी भी दिया गया था''. 


मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को सुनील का व्यवहार काफी अजीब लगा और इस वजह से उन्होंने इस बारे में गोवा पुलिस को जानकारी दी. सावंत ने संवाददाताओं से कहा, ''मैंने क्राइम ब्रांच से उसे गिरफ्तार करने के लिए कहा था. उसने उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री होने का दावा करने के लिए जाली पत्र और ई-मेल दिखाए थे''. 

इससे पहले आरोपी ने पिछले हफ्ते गोवा के सहकारिता मंत्री गोविंद गावड़े से मंत्रीस्तरीय ब्लॉक में मुलाकात की थी और विभाग से संबंधित मुद्दों पर चर्चा भी की थी. इसके बारे में पूछे जाने पर गोविंद गावडे ने कहा, "मुझे बताया गया था कि वह राज्य अतिथि हैं और यूपी मंत्रिमंडल में एक मंत्री हैं. मैं उससे अधिक समय के लिए नहीं मिला था. वह मेरे साथ केवल 10 मिनट के लिए था". गोविंद गावड़े ने यह भी कहा कि उन्हें भी उसका व्यवहार थोड़ा अजीब लग रहा था. 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, ''इसलिए जब मैं घर पहुंचा तो मैंने इंटरनेट पर चेक किया लेकिन उसके नाम से ढूंढने पर मुझे कोई जानकारी नहीं मिली. हालांकि, अपने काम में व्यस्त होने के कारण मैं इस बारे में किसी से बात नहीं कर पाया''.

क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने कहा कि सिंह और उसके साथियों ने कथित तौर पर यूपी सरकार के जाली दस्तावेजों का इस्तेमाल किया था. उन्होंने कहा, "हम इस मामले की जांच में अपने यूपी समकक्षों से मदद मांगेंगे." आरोपियों ने दक्षिण गोवा के कैनाकोना तालुका में एक स्कूल समारोह में भी भाग लिया था, जहां उन्हें राज्य में रहने के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 17: अजय देवगन की 'तान्हाजी' ने 17वें दिन मचाया तूफान, बॉक्स ऑफिस पर बनाया रिकॉर्ड

Advertisement