NDTV Khabar

मेनका गांधी ने स्कूलों में महिला गैर शिक्षण कर्मचारी रखने का सुझाव दिया

मेनका गांधी का बयान दो स्कूल परिसरों में दो नाबालिग छात्रों के कथित यौन उत्पीड़न की घटनाओं की पृष्ठभूमि में आया है जिनमें से एक की हत्या कर दी गयी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेनका गांधी ने स्कूलों में महिला गैर शिक्षण कर्मचारी रखने का सुझाव दिया

महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने सुझाया कि स्कूलों में वाहन चालक, कंडक्टर और गैर शिक्षण कर्मचारी महिलाएं होनी चाहिए ताकि बाल यौन शोषण की घटनाएं रोकी जा सकें. महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि उनके मंत्रालय ने इस संबंध में मानव संसाधन विकास मंत्रालय से भी संपर्क किया है. उनका बयान दो स्कूल परिसरों में दो नाबालिग छात्रों के कथित यौन उत्पीड़न की घटनाओं की पृष्ठभूमि में आया है जिनमें से एक की हत्या कर दी गयी. मेनका ने कहा, ‘‘हमने मानव संसाधन विकास मंत्रालय से कहा है और यह महिलाओं से संबंधित नीति (मसौदा) में भी शामिल है, कि स्कूलों में वाहन चालक, कंडक्टर और गैर शिक्षण कर्मचारी महिलाएं हों.’’

जुलाई में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के नेतृत्व वाले एक मंत्री समूह ने राष्ट्रीय महिला नीति (मसौदा) को मंजूरी दे दी थी और अब वह मंत्रिमंडल के पास लंबित है.


गत शुक्रवार को गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में एक स्कूल बस कंडक्टर ने सात साल के एक छात्र की कथित रूप से हत्या कर दी थी. आरोपी कथित रूप से बच्चे के यौन शोषण की कोशिश कर रहा था जिसे रोकने पर उसने छात्र की जान ले ली. शनिवार को दिल्ली के शाहदरा इलाके में स्थित एक निजी स्कूल के एक चपरासी ने कथित रूप से पांच साल की एक बच्ची के साथ बलात्कार किया.

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि स्कूलों में अनुबंध पर रखे जाने वाले कर्मचारी चिंता का विषय हैं और यह मुद्दा मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सामने उठाया जाएगा. रेयान इंटरनेशनल स्कूल के आरोपी बस कंडक्टर को एक सुरक्षा एजेंसी ने काम पर लगाया था, जिससे स्कूल अनुबंध आधार पर सेवाएं ले रहा था. स्कूल ने अब एजेंसी से संबंध तोड़ लिए हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: दिल्‍ली के स्‍कूल में 5 साल की बच्‍ची से हैवानियत

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement