NDTV Khabar

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खत्म किया LG हाउस में 9 दिन से जारी धरना, जानिये बाहर आने के बाद क्या कहा...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी हाउस में अपना धरना खत्म कर दिया है. धरना खत्म करने के बाद दिल्ली के सीएम ने कहा कि पिछले 9 दिनों का अनुभव बहुत ही अच्छा रहा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खत्म किया LG हाउस में 9 दिन से जारी धरना, जानिये बाहर आने के बाद क्या कहा...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी हाउस में 9 दिन से जारी धरना खत्म किया.

खास बातें

  1. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खत्म किया धरना
  2. पिछले 9 दिनों से एलजी हाउस में धरने पर थे दिल्ली के सीएम
  3. बाहर आने के बाद बोले-पिछले 9 दिनों का अनुभव बहुत ही अच्छा रहा
नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी हाउस में अपना धरना खत्म कर दिया है. धरना खत्म करने के बाद दिल्ली के सीएम ने कहा कि पिछले 9 दिनों का अनुभव बहुत ही अच्छा रहा. हम 4 तो अंदर थे, आप सबने और सभी पार्टियों के सहयोग से जो आपने बाहर करिश्मा दिखाया, जनसैलाब सड़क पर उतरा, उसके बिना यह सब मुमकिन नहीं था. सभी साथियों और पार्टियों का आभार. 
 
केजरीवाल उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन और गोपाल राय के साथ पिछले 9 दिनों से धरने पर बैठे थे. मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन को तबीयत खराब होने के बाद हालांकि अस्पातला में भर्ती कराया गया था, लेकिन केजरीवाल और गोपाल राय एलजी हाउस में ही जमे थे. सिसोदिया और सत्येंद्र जैन को हालांकि बाद में अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी.
 
इन सबके बीच धरने के नौवें दिन राज्यपाल अनिल बैजल ने इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया दी है. अनिल बैजल ने चिट्ठी लिखकर दिल्ली के सीएम से अनुरोध किया है कि वह तत्काल सचिवालय में आईएएस अधिकारियों के साथ बैठक करें. बैजल ने केजरीवाल को पत्र उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के उस पत्र के जवाब में लिखा, जिसमें सिसोदिया ने गतिरोध खत्म करने के लिए सरकार और नौकरशाहों के बीच बैठक की वकालत की थी. केजरीवाल, सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और श्रम मंत्री गोपाल राय ने अपनी मांगों को लेकर 11 जून को उपराज्यपाल कार्यालय में धरना प्रदर्शन शुरू किया था. इन मांगों में आईएएस अधिकारियों को उनकी 'हड़ताल' खत्म करने के निर्देश देना शामिल था.

बैजल कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, 'उपराज्यपाल ने मुख्यमंत्री से सचिवालय में अधिकारियों से तत्काल मिलने का आग्रह किया, ताकि दोनों पक्षों की चिंताओं को दिल्ली की जनता के सर्वश्रेष्ठ हित में बातचीत के जरिये सही ढंग से दूर किया जा सके.' अधिकारी ने कहा कि बैजल ने इससे पहले आप सरकार को निर्वाचित सरकार और अधिकारियों के बीच विश्वास बहाली के लिए प्रयास करने का सुझाव दिया था. 
 
इन सबके बीच दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेस में कहा कि दिल्ली सरकार की मीटिंग में अफसरों ने आना शुरू कर दिया है. आज मुख्य सचिव तक ने मंत्री की बैठक में हिस्सा लिया. सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का धरना अब खत्म हो गया है. सिसोदिया ने कहा  कि अफसरों ने फोन भी उठाना शुरू कर दिया है. अधिकारियों के मीटिंग में आने के बाद कई समस्याओं का समाधान हुआ है. 


इससे पहले आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पीएम मोदी जब पाकिस्तान से बात कर सकते हैं तो क्या वह हमसे बात नहीं कर सकते. क्या दिल्ली के लोगों के लिए काम करना गलत है. उधर, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को आज एलएनजेपी अस्पताल से छुट्टी मिल गई. अस्पताल से छुट्टी मिल जाने के बाद दिल्ली सरकार के दो मंत्री, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन आज से अपना कामकाज संभालेंगे. बता दें कि बीते सात दिनों से एलजी हाउस पर भूख हड़ताल की वजह से उनकी तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. बता दें कि मूत्र में कीटोन का स्तर तेजी से बढ़ने और रक्त शर्करा का स्तर घटने के बाद सिसोदिया को कल दोपहर करीब तीन बजे एलएनजेपी अस्पताल ले जाया गया. जबकि जैन की सेहत खराब होने के बाद उन्हें रविवार रात एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.
 

दिल्ली में आम आदमी पार्टी का धरना LIVE UPDATES:



- दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा है. जिसमें उन्होंने केजरीवाल
और मंत्रियों को दिल्ली सचिवालय में अफसरों के साथ मीटिंग के लिए आमंत्रण दिया है.  उपराज्यपाल ने अफसरों
और मंत्रियों के बीच बात चीत के जरिये विवाद सुलझाने की बात कही है.

- संजय सिंह ने कहा कि LG के पास चार राज्यों के मुख्यमंत्री से मिलने का समय नहीं है, उनके पास 8 दिन से उनके आवास में बैठे दिल्ली के मुख्यमंत्री से मिलने का समय नहीं है. उनके पास हम सांसदों से मिलने का समय नहीं है. अगर ऐसा ही है तो ये LG हाउस क्यों चल रहा है? - दिल्ली सरकार तैयार है, अधिकारी तैयार है,लेकिन LG साहब ने अभी तक कोई बैठक नहीं बुलाई नहीं है. बड़े अफसोस की बात है उनका अभी तक कोई जवाब भी नहीं आया है- संजय सिंह, आप नेता - आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि पीएम मोदी पाक से बात कर सकते हैं तो फिर हमसे क्यों नहीं? 

- बीजेपी की ओर से दिल्ली विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष ने भी ट्वीट कर कहा कि सोफे पर पसरी सरकार को अब गद्दी से हटाना है.  केजरीवाल सरकार के धरने के खिलाफ दी गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई से किया इनकार

मनीष सिसोदिया ने अस्पताल से छुट्टी मिलने से पहले अपने तबीयत में सुधार की जानकारी ट्विटर पर दी. डिप्टी सीएम ने ट्वीट कर लिखा- 'डॉक्टरों की देखरेख और आप सभी के आशर्वीदा से मैं तेजी से ठीक हो रहा हूं.' आगे उन्होंने लिखा कि 'कल यानी सोमवार को मेरा कीटोन लेवल 7.4 हो गया था और मेरा बीपी भी बढ़कर 184/100 हो गया था, जिसकी वजह से किडनी पर असर पड़ सकता था. मगर अब सब कुछ नियंत्रण में है. अगर डॉक्टर जाने की इजाजत दे देते हैं तो आज से ही काम पर लौट जाउंगा.'
हालांकि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और मंत्री गोपाल राय अब भी गवर्नर अनिल बैजल के घर राज निवास पर डंटे हुए हैं और अपना अनशन जारी रखे हुए हैं. सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया कि गवर्नर को बीते आठ दिनों में दिल्ली की जनता के लिए आठ मिनट भी नहीं मिले हैं. उम्मीद है कि आज उन्हें कुछ समय मिल पाएगा. 

केजरीवाल का धरना, दिल्ली में ममता बनर्जी की 'अतिसक्रियता' और यह तस्वीर, आखिर क्या है इसके पीछे की राजनीति

इससे पहले सोमवार को आम आदमी पार्टी के नेताओं को दिल्ली हाईकोर्ट ने फटकार लगाई थी और कहा था कि इसे धरना नहीं कहा जा सकता. आप किसी भी दफ्तर के भीतर नहीं जा सकते और न ही वहां धरना कर सकते हैं. बता दें कि इसके अलावा दो और याचिका दाखिल की गई है, जिसमें एक विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता का है. 

टिप्पणियां
 बता दें कि सीएम केजरीवाल अपने सहयोगियों के साथ 13 जून से उप राज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में धरने पर बैठे हैं. वह बैजल से आईएएस अधिकारियों को हड़ताल (आप के मुताबिक) खत्म करने का निर्देश देने और राशन को घर - घर पहुंचाने की योजना को मंजूरी देने की मांग कर रहे हैं.

VIDEO: नेशनल रिपोर्टर : अस्पताल से अदालत तक 'आप' का धरना


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement