NDTV Khabar

मनोज तिवारी को मनीष सिसोदिया की चुनौती, घोटाला किया तो गिरफ्तार करो; नहीं तो माफी मांगो

मनोज तिवारी का आरोप- डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने पुराने स्कूलों में नए क्लास रूम बनाए, इसमें 2000 करोड़ रुपये का घोटाला किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मनोज तिवारी को मनीष सिसोदिया की चुनौती, घोटाला किया तो गिरफ्तार करो; नहीं तो माफी मांगो

मनीष सिसोदिया ने मनोज तिवारी को चुनौती दी है कि यदि घोटाला किया है तो शाम तक गिरफ्तार करो या फिर माफी मांगो.

खास बातें

  1. सिसोदिया ने कहा- करोड़ों के घोटाले का आरोपी खुला घूम रहा!
  2. मेरी चुनौती है, या तो शाम तक अरेस्ट करो या माफी मांगो
  3. दिल्ली के गरीब लोगों से माफी मांगो जिनको अच्छे स्कूल मिले
नई दिल्ली:

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर दिल्ली के बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने 2000 करोड़ का शिक्षा घोटाला करने का आरोप लगाया है. इस पर मनीष सिसोदिया ने तीखी प्रतिक्रिया जताई है और मनोज तिवारी को चुनौती दी है कि यदि घोटाला किया है तो शाम तक गिरफ्तार करो या फिर माफी मांगो.

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा है कि 'अगर 2000 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोपी खुला घूम रहा है तो हिम्मत है तो गिरफ्तार करो.मेरी चुनौती है, या तो शाम तक अरेस्ट करो या माफी मांगो. दिल्ली के गरीब लोगों से माफी मांगो जिनको अच्छे स्कूल मिले.' उन्होंने कहा कि 'गिरफ्तार करो या दिल्ली के पेरेंट, टीचर से माफी मांगो.'

भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार पर शिक्षा घोटाले का आरोप लगाया है. घोटाले में भाजपा ने सीधे तौर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को हाथ बताया है. दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने पुराने स्कूलों में नए क्लासरूम बनाए, इसमें 2000 करोड़ रुपये का घोटाला किया गया है. उन्होंने बताया, '300 स्क्वायर फीट के कमरे बनवाए गए हैं, जिन पर हमारे हिसाब से प्रति क्लास 3-5 लाख का खर्च आता है. लेकिन दिल्ली सरकार ने एक कमरा बनाने के लिए 25 लाख रुपये आवंटित किए.'


BJP का AAP पर 'शिक्षा घोटाले' का आरोप: मनोज तिवारी बोले- सिसोदिया ने 2000 करोड़ रुपये का किया घोटाला

उन्होंने बताया कि आरटीआई से जानकारी मिली है, '77.54 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है. 12,748 क्लास रूम बन रहे हैं. कुल लागत 2892 करोड़ रुपये आती है. जबकि हमारे मुताबिक 892 करोड़ में बन जाने चाहिए.' साथ ही तिवारी ने कहा कि अपने भाई, बंधु और रिश्तेदारों को ठेके दिए, इसका खुलासा बाद में करेंगे. इस खुलासे के बाद एक मिनट भी मंत्री बने रहने लायक नहीं हैं. स्कूलों में कमरों के निर्माण के ठेके 34 ठेकेदारों को दिए गए हैं, इनमें से कुछ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता और रिश्तेदार हैं.

मनीष सिसोदिया ने भाजपा के शिक्षा मॉडल की केजरीवाल मॉडल से तुलना की दी चुनौती

साथ ही तिवारी ने कहा, 'ये पूरी धरती का सबसे अनूठा भ्रष्टाचार है. फाइव स्टार होटल के कमरे की लागत भी 5000 रुपये स्क्वायर फीट से ज़्यादा नहीं आती, आपने तो 8800 रुपये स्क्वायर फीट की लागत से क्लासरूम बनवाया है. लोकपाल के पास इसकी शिकायत करेंगे, मनीष सिसोदिया तुरंत इस्तीफा दें. सिसोदिया बताएं क्या यही पैसे केजरीवाल, सत्येंद्र जैन को दिए गए?'

VIDEO : मनीष सिसोदिया पर घोटाले का आरोप

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement