दिल्‍ली चुनाव : एग्जिट पोल को नकारते हुए बोले मनोज तिवारी, बीजेपी 48 सीटें जीतेगी

इन सभी एग्जिट पोल के औसत की बात करें तो आम आदमी पार्टी 56 सीटें जीतकर बड़ी आसानी से सरकार बनाती दिख रही है वहीं बीजेपी को 16 सीटें मिल सकती है.

नई दिल्‍ली:

दिल्‍ली बीजेपी अध्‍यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में मतदान खत्‍म होने के बाद आए एग्जिट पोल्‍स को सिरे से खारिज कर दिया और अपनी पार्टी की जीत का भरोसा जताया है. करीब आधा दर्जन एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी की बड़ी जीत का अनुमान जताए जाने के बाद मनोज तिवारी ने ट्वीट किया, 'ये सारे एग्जिट पोल फेल हो जाएंगे, मेरा ट्वीट सेव कर लीजिए.. बीजेपी 48 सीटों के साथ सरकार बनाएगी. कृपया हार के लिए ईवीएम को दोष देने के नए बहाने मत ढूंढिए.'

इन सभी एग्जिट पोल के औसत की बात करें तो आम आदमी पार्टी 56 सीटें जीतकर बड़ी आसानी से सरकार बनाती दिख रही है वहीं बीजेपी को 16 सीटें मिल सकती है. हालांकि एग्जिट पोल अधिकांशत: गलत साबित होते हैं.

दिल्‍ली में सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी को 36 सीटों की आवश्‍यकता है.

एग्जिट पोल सामने आने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने भी दिल्‍ली के सभी सांसदों को चुनाव पर चर्चा करने के लिए बुलाया. सूत्रों ने बताया कि बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा व पार्टी के अन्‍य पदाधिकारी भी बैठक में मौजूद रहेंगे.

बीजेपी ने दिल्‍ली में चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी थी, जिसमें घर-घर जाकर प्रचार करने के अलावा अमित शाह की नुक्‍कड़ सभाएं भी शामिल रहीं. पार्टी ने अपने करीब 250 सांसदों को दिल्‍ली के विभिन्‍न इलाकों में प्रचार में उतार दिया था.

चुनाव प्रचार के आखिरी हफ्ते में शाहीन बाग में चल रहे नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन उसके केंद्र में रहा और सत्ताधारी पार्टी को संभवत: उसी का फायदा मिलता दिख रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

करीब दो महीने पहले विवादास्‍पद नागरिकता संशोधन कानून को लेकर शुरू हुए विरोध प्रदर्शनों के बाद दिल्‍ली का यह पहला चुनाव है.

2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 54.3 फीसदी वोट‍ मिले थे जबकि बीजेपी को 32 फीसदी और कांग्रेस को 9.6 फीसदी वोट मिले थे.