NDTV Khabar

आसाराम बलात्कार मामला: जोधपुर में बढ़ाई गई सुरक्षा, कई बटालियन तैनात

राजस्थान, गुजरात और हरियाणा में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने के आदेश. केंद्र सरकार ने कहा हिंसा न हो यह सुनिश्चित किया जाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आसाराम बलात्कार मामला: जोधपुर में बढ़ाई गई सुरक्षा, कई बटालियन तैनात

आसाराम की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जोधपुर की एक अदालत बलात्कार के मामले में आसाराम के खिलाफ बुधवार को फैसला सुनाएगा. इस फैसले को ध्यान में रखते हुए जोधपुर में सुरक्षा बढ़ा दी गई और साथ ही निषेधाज्ञा भी लागू कर दी गई है. कानून जानकारों की मानें तो इस मामले में अगर आसाराम को दोषी ठहराया जाता है तो उन्हें कम से कम दस साल की सजा हो सकती है. बुधवार को आने वाले फैसले को ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार ने राजस्थान , गुजरात और हरियाणा सरकारों से सुरक्षा बढ़ाने और अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने को कहा है.

यह भी पढ़ें: आसाराम प्रकरण : फैसला आने से पहले पीड़िता के घर की सुरक्षा चाक चौबंद

गौरतलब है कि इन तीन राज्यों में आसाराम को मानने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इन तीनों राज्यों से सुरक्षा मजबूत करने को कहा है. साथ ही यह सुनिश्चित करने को भी कहा गया है कि अदालत के आदेश के बाद कोई हिंसा न हो. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि तीनों राज्यों से संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने के लिए कहा गया है. राजस्थान उच्च न्यायालय के निर्देशों के मुताबिक निचली अदालत मामले के सिलसिले में जोधपुर सेन्ट्रल जेल परिसर में अपना फैसला सुनाएगी जहां आसाराम बीते चार साल से अधिक समय से जेल में बंद हैं.


यह भी पढ़ें: आसाराम के खिलाफ बलात्कार मामले में फैसला आने से पहले जोधपुर में निषेधाज्ञा

डीजीआई ( जेल ) विक्रम सिंह ने बताया कि हमने आज के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए हुए हैं. जेल परिसर में अदालत कक्ष में अदालत के कर्मचारियों सहित मजिस्ट्रेट , आसाराम और सह आरोपी , बचाव एवं अभियोजन पक्ष के वकील मौजूद रहेंगे. ध्यान हो कि आसाराम पर उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की एक नाबालिग से बलात्कार करने का आरोप है.

टिप्पणियां

VIDEO: बलात्कर के मामले में जोधपुर जेल में होगी आसाराम की सुनवाई.

यह लड़की मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में आसाराम के आश्रम में पढ़ाई कर रही थी. आसाराम से इन आरोपों से इंकार किया है. (इनपुट भाषा से) 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement