Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

राजस्थान विधानसभा में हंगामा कर रहे सदस्यों को मार्शलों ने बाहर निकाला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्थान विधानसभा में हंगामा कर रहे सदस्यों को मार्शलों ने बाहर निकाला

राजस्थान विधानसभा में हंगामा (फाइल फोटो)

जयपुर:

राजस्थान विधानसभा में बुधवार को प्रश्नकाल में प्रतिपक्ष सदस्यों को मौका नहीं देने के मुद्दे को लेकर हुए अभूतपूर्व हंगामे के बाद अध्यक्ष कैलाश मेघवाल के आदेश पर मार्शलों ने नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी समेत हंगामा कर रहे प्रतिपक्ष सदस्यों को उठाकर सदन से बाहर निकाल दिया. अध्यक्ष ने हंगामे को देखते हुए सदन की बैठक एक घंटे के लिए स्थगित कर दी.

(कांग्रेस के 12 सदस्यों समेत 14 सदस्य राजस्थान विधानसभा से साल भर के लिए निलंबित)

अध्यक्ष के आदेश पर सुरक्षाकर्मियों ने सबसे पहले कांग्रेस के गोविन्द डोटासरा और बाद में एक एक कर बाकी प्रतिपक्ष सदस्यों को सदन से निकाला. इस दौरान कांग्रेस के धीरज गुर्जर, मनोज न्यांगली समेत चार प्रतिपक्ष सदस्यों की सुरक्षाकर्मियों से हल्की झड़प भी हुई. कांग्रेस की शकुंतला रावत को भी महिला सुरक्षाकर्मी बिना किसी खास विरोध के सदन से बाहर ले गई.

इस दौरान अध्यक्ष कैलाश मेघवाल सदन में ही मौजूद थे इससे पूर्व अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने कहा कि कुछ हुड़दंगी विधायक बिना किसी कारण आसन के समक्ष आकर हंगामा करते हैं, मैं सदन में इनकी दादागिरी चलने नहीं दूंगा. उन्होंने हंगामा कर रहे प्रतिपक्ष सदस्यों को कड़े शब्दों का इस्तेमाल करते हुए अपने स्थान पर जाने के निर्देश दिए, लेकिन हंगामा कर रहे विधायकों पर इसका कोई असर नहीं पड़ा.


गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश फिर राजस्थान और अब दिल्ली में हुई हार की झेप मिटाने के लिए यह लोग (कांग्रेस सदस्य) बेवजह हंगामा कर सदन का समय खराब कर रहे हैं.

संसदीय कार्य मंत्री राजेंद्र राठौड़ समेत सत्ता पक्ष के कई सदस्यों ने प्रतिपक्ष सदस्यों पर बेवजह हंगामा कर सदन का समय खराब करने और सदन के नियमों और परम्पराओं का जानबूझकर उल्लंघन करने के आरोप लगाए. सरकारी सचेतक मदन राठौड ने हंगामा कर रहे प्रतिपक्ष सदस्यों को सदन से बाहर निकालने का प्रस्ताव रखा. अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए मार्शल को हंगामा कर रहे सभी प्रतिपक्ष सदस्यों को सदन से बाहर निकालने के आदेश दिए.

टिप्पणियां

हंगामा उस समय शुरू हुआ जब प्रश्नकाल में पहले नंबर पर प्रधानमंत्री निशुल्क आवास योजना के प्रश्न के दौरान प्रतिपक्ष सदस्यों को पूरक प्रश्न करने का मौका नहीं देने पर कांग्रेस के गोविंद डोटासरा, निर्दलीय हनुमान बेनीवाल, मनोज न्यागली समेत अन्य प्रतिपक्ष सदस्य आसन के समक्ष आकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... शादी के लिए नहीं मिल पा रही थी फुर्सत, IAS ऑफिसर ने दफ्तर में ही रचाया IPS दुल्‍हन संग ब्‍याह

Advertisement