आतंकियों से लोहा लेते वक्‍त शहीद हुए कर्नल महादिक की पत्‍नी हुईं सेना में शामिल

दो साल पहले जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए कर्नल महादिक वीरगति को प्राप्त हो गए थे.

आतंकियों से लोहा लेते वक्‍त शहीद हुए कर्नल महादिक की पत्‍नी हुईं सेना में शामिल

चेन्नई:

साहस और दृढ़ संकल्प का अनुकरणीय उदाहरण पेश करते हुए शहीद कर्नल संतोष महादिक की पत्नी शनिवार को 11 महीनों का कठिन प्रशिक्षण हासिल करने के बाद सेना में अधिकारी के तौर पर शामिल हो गयीं. दो साल पहले जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए कर्नल महादिक वीरगति को प्राप्त हो गए थे. 38 साल की स्वाति महादिक दो बच्चों की मां हैं और आर्मी ऑर्डनेंस कोर ने उन्हें सेना में अधिकारी के रूप में शामिल किया. उनके पति कर्नल महादिक को वीरता के लिए सेना मेडल दिया गया था. उनकी नवंबर, 2015 को उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंक विरोधी अभियान में मौत हो गयी थी. कर्नल महादिक सेना के 21 पैरा स्पेशल फोर्सेज के अधिकारी थे और उनके सहकर्मियों के अनुसार वह हमेशा आगे बढ़कर नेतृत्व करने के लिए जाने जाते थे.

यह भी पढ़ें: खतरा जानकर भी आर्मी के अफसर क्यों नहीं करते अपनी जान की परवाह

स्वाति अपने पति के पदचिह्नों का पालन करते हुए पिछले साल अक्टूबर में सेना के अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी (ओटीए) का हिस्सा बनी थीं. सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम सार्वजनिक ना करने के अनुरोध के साथ कहा, ‘‘चेन्नई में ओटीए में प्रशिक्षण पूरा करने के बाद स्वाति महादिक को शनिवार को अधिकारी के तौर पर सेना में शामिल कर लिया गया.’’

 
lt swati mahadik

उन्होंने बताया कि स्वाति पुणे में आर्मी ऑर्डनेंस कोर का हिस्सा होंगी. निधि दुबे नाम की एक और महिला अधिकारी के तौर पर सेना में शामिल हुईं. निधि ने अपने पति को खो दिया जो सेना में नायक थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: रक्षामंत्री ने भी दी शहीद कर्नल महादिक को श्रद्धांजलि

(इनपुट भाषा से...)