NDTV Khabar

भूकंप से हिल गया समूचा उत्तर भारत, 40 से ज्यादा की गई जान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Earthquake Kills 25 in Bihar, Power Disconnected in Some Parts
नई दिल्ली : नेपाल में आए 7.9 तीव्रता के भूकंप से समूचा उत्तर भारत भी हिल गया। खासतौर पर बिहार, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और सिक्किम के नेपाल से लगी सीमाओं के आसपास काफी तेज झटके महसूस किए गए। इस भूकंप की वजह से कई इमारतें क्षतिग्रस्त हो गई या धराशायी हो गईं, जिसमें दबकर 51 लोगों की मौत हो गई और करीब 100 अन्य घायल हो गए। इनमें से 38 की मौत बिहार में, 11 की उत्तर प्रदेश और दो की मौत पश्चिम बंगाल में हुई है। इन राज्यों में करीब 100 लोग घायल हुए हैं।

भारत में भूकंप के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। इन नंबरों पर फोन करके पूरी जानकारी जुटाई जा सकती है : +91-11-23012113, +91-11-2301-4104.

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने बताया कि भारत में सबसे ज्यादा लोग बिहार में मारे गए हैं, जिनकी संख्या 38 है। इस राज्य में 133 लोग घायल हो गए। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में 11 लोगों की मौत हो गई तथा 69 घायल हो गए, वहीं पश्चिम बंगाल में दो लोगों की मृत्यु हो गई और 35 घायल हो गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और दिशानिर्देश जारी कर रहे हैं। प्रभावित क्षेत्रों में बचाव एवं राहत अभियान युद्धस्तर पर शुरू कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां एक उच्च स्तरीय बैठक में स्थिति का जायजा लिया और प्रभावित क्षेत्रों के लिए तत्काल राहत और बचाव टीमें रवाना करने का निर्देश दिया जिसमें चिकित्साकर्मी शामिल हों।

पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बात की। कैबिनेट सचिव अजीत सेठ की अगुवाई वाली केंद्र सरकार की आपदा प्रबंधन समिति स्थिति पर निगरानी रखने के लिए नियमित बैठकें कर रही है।

केंद्रीय गृह सचिव एल सी गोयल ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की पांच टीमें राहत और बचाव अभियान के लिए बिहार और उत्तर प्रदेश भेजी गई हैं। प्रत्येक टीम में 45 कर्मी हैं। उन्होंने कहा, 'हमार ध्यान राहत अभियान पर है। नुकसान का आकलन कुछ समय बाद किया जाएगा।'

वहीं रिजिजू ने कहा कि राहत टीमें बिहार के पटना, सुपौल, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, गोपालगंज और उत्तर प्रदेश के गोरखपुर भेजी गई हैं। उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ के कुल 460 जवानों को नेपाल भेजा गया है।

बिहार में संचार व्यवस्था चरमराई
केंद्रिय मंत्री और बिहार के सारण से बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि सुरक्षा कारणों से समूचे उत्तर बिहार की बिजली काट दी गई है। इससे पहले राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव ब्यास जी ने बताया कि राजधानी पटना के अलावा गया, सीतामढ़ी, नालंदा, बक्सर, पूर्णिया, बेगूसराय, गोपालगंज सहित कई जिलों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक तौर पर अभी तक कहीं से कोई बड़े नुकसान की खबर नहीं है।

टिप्पणियां
सिक्किम में हुआ भूस्खलन
भूकंप के कारण सिक्किम के कई हिस्सों में भूस्खलन की खबर है। बहरहाल, अब तक भूस्खलन में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। मौसम विभाग ने बताया कि सिक्किम में पिछले तीन दिन से मामूली झटके महसूस किए जा रहे थे।

इनपुट : एजेंसियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement