NDTV Khabar

सरकार के सिफारिश वापस भेजने पर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की मीटिंग आज

उत्तराखण्ड हाईकार्ट के चीफ जस्टिस केएम जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने की सिफारिश केंद्र सरकार ने वापस भेज दी है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सरकार के सिफारिश वापस भेजने पर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की मीटिंग आज

खास बातें

  1. दो मई को कॉलेजियम मीटिंग में फैसला नहीं हो पाया था
  2. पांच वरिष्ठ जजों का कॉलेजियम केंद्र की आपत्तियों पर विचार करेगा
  3. जस्टिस चेलमेश्वर ने चीफ जस्टिस को लिखा पत्र
नई दिल्ली: उत्तराखण्ड हाईकार्ट के चीफ जस्टिस केएम जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने की सिफारिश को केंद्र द्वारा वापस भेजने पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की मीटिंग होगी. दोपहर एक बजे सुप्रीम कोर्ट के पांच वरिष्ठ जजों का कॉलेजियम केंद्र की आपत्तियों पर विचार करेगा.

टिप्पणियां
दो मई को कॉलेजियम मीटिंग में फैसला नहीं हो पाया था. जस्टिस के एम जोसेफ पर फैसला टल गया था. कॉलेजियम में आंध्र एवं तेलंगाना हाईकोर्ट, कलकत्ता, राजस्थान हाईकोर्ट के जजों को सुप्रीम कोर्ट में फेयर रिप्रेजेंटेशन के तौर पर नियुक्ति की सिफारिश पर भी फैसला टल गया था.

उत्तराखंड हाईकार्ट के चीफ जस्टिस केएम जोसफ को सुप्रीम कोर्ट में लाए जाने को लेकर जस्टिस चेलमेश्वर ने एक और चिट्ठी चीफ जस्टिस को लिखी है. चिट्ठी  में जस्टिस चेलमेश्वर ने जस्टिस जोसफ पर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की सिफारिशों पर अमल की राह में आ रहे नियमों के रोड़े का ज़िक्र करने वाले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद की चिट्ठी के हर पॉइंट का जवाब दिया है. कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद की दलीलों को खारिज करते हुए चीफ जस्टिस के नाम लिखे पत्र में उन्होंने फिर ज़ोर दिया है कि कोलेजियम अपनी सिफारिश पर कायम रहते हुए दोबारा जस्टिस जोसफ का नाम सरकार को जल्दी भेजे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... CTET Admit Card 2018: इस Direct Link से एडमिट कार्ड करें Download

Advertisement