महबूबा का BJP पर तंज: खुदा का शुक्र है कि गायों को वोट देने का अधिकार नहीं दिया गया

महबूबा मुफ्ती ने कहा, ‘अगर इमरान पाकिस्तान सेना का एक प्रतिनिधि है तो यह बातचीत का सही समय है.'

महबूबा का BJP पर तंज: खुदा का शुक्र है कि गायों को वोट देने का अधिकार नहीं दिया गया

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती.

खास बातें

  • मुफ्ती ने इमरान खान को सेना का एक ‘प्रतिनिधि’ बताया.
  • दोनों देशों में बातचीत का सही समय.
  • वार्ता हुई तो ‘लाभकारी’ साबित होगी.
नई दिल्ली:

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसते हुए कहा कि खुदा का शुक्र है कि गायों को वोट देने का अधिकार नहीं दिया गया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत के लिए पाकिस्तान से बात करने का यह ‘सही समय' है क्योंकि पड़ोसी देश के नए प्रधानमंत्री इमरान खान को उनकी सेना का एक ‘प्रतिनिधि' माना जाता है. उन्होंने कहा कि अगर अब इस बार दोनों देशों के बीच बातचीत की शुरूआत होती है तो यह ‘लाभकारी' साबित होगी. दिया गया.महबूबा मुफ्ती में यह दिल्ली में एक मीडिया संस्थान के कार्यक्रम में कही. 

मुफ्ती ने कहा, ‘अगर इमरान पाकिस्तान सेना का एक प्रतिनिधि है तो यह बातचीत का सही समय है. जब इमरान खान ने कहा कि वह बातचीत, गलियारा खोलने के लिए तैयार हैं तब मुझे लगता है कि सेना का भी यही मानना होगा...'' उन्होंने पूछा, ‘अब बातचीत लाभकारी होगी... हम बातचीत क्यों नहीं करते हैं?'

हाफिज सईद को 'संरक्षण' देने की बात करते इमरान के गृहराज्य मंत्री का VIDEO लीक

मुफ्ती ने साथ ही कहा कि उनकी पार्टी ऐसे किसी भी राजनीतिक दल से गठबंधन कर सकती है जो जम्मू-कश्मीर मुद्दे के समाधान का समर्थन करे. उन्होंने कहा, 'अगर हम भाजपा से हाथ मिला सकते हैं तो जम्मू-कश्मीर के मुद्दे के लिए हम किसी के साथ भी जा सकते हैं.'

पता था कि भाजपा के साथ गठबंधन आत्मघाती होगा, तब भी गठजोड़ किया: महबूबा मुफ्ती

साथ ही उन्होंने कहा कि पीडीपी का भाजपा के साथ जाना 'आत्मघाती' था. जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने इससे कोई सबक मिला? तो उन्होंने कहा, 'भाजपा ने मुझे कोई सबक नहीं सिखाया, मैं मेरी जगह खड़ी रही. हमने कश्मीर के लोगों के लिए यह प्रयोग किया था, लेकिन यह काम नहीं कर पाया.'

1984 का सिख दंगा : पाकिस्तान से लड़ने वाले फौजी को भीड़ ने मारा, बचाने आया बेटा तो कर दिए 3 टुकड़े

मुफ्ती ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शासन में काफी फर्क है. उन्होंने कहा, 'अटल बिहारी वाजपेयी सहज और जमीन से जुड़े हुए थे. उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. अब एनडीए चुनाव जीतने पर ज्यादा फोकस कर रही है.'

इसके साथ ही उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसते हुए कहा, 'खुदा का शुक्र है कि गायों को वोट देने का अधिकार नहीं

Newsbeep

गर्लफ्रेंड से मिलने पाकिस्तान चला गया था हामिद, वहां डाल दिया गया जेल में, अब तीन साल बाद होगा रिहा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO- सिंपल समाचारः दाऊद और हाफिज सईद पर पूछे सवाल पर क्या बोले इमरान खान