बार-बार होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए रेलवे ने उठाया यह बड़ा कदम

भारतीय रेल के सुरक्षा मुद्दों पर खासतौर पर ध्यान देने के लिए पहली बार उसके रेलवे बोर्ड में एक सदस्य होगा.

बार-बार होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए रेलवे ने उठाया यह बड़ा कदम

रेल मंत्री पीयूष गोयल (फाइल फोटो)

खास बातें

  • लोगों की सुरक्षा को लेकर रेलवे गंभीर
  • सुरक्षा मुद्दों पर ध्यान देने के लिए रेलवे बोर्ड में एक सदस्य होगा
  • एक समिति ने इसकी सिफारिश की थी
नई दिल्ली:

भारतीय रेल के सुरक्षा मुद्दों पर खासतौर पर ध्यान देने के लिए पहली बार उसके रेलवे बोर्ड में एक सदस्य होगा. बार-बार होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए पिछले साल अगस्त में संसद की एक समिति ने खासतौर पर सुरक्षा पर ध्यान देने के मकसद से इस तरह के पद की जरूरत की सिफारिश की थी. रेल मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि रेल मंत्री पीयूष गोयल पहले ही बोर्ड का विस्तार करने के लिए सामग्री प्रबंधन संबंधी सदस्य और संकेतन एवं दूरसंचार संबंधी सदस्य के साथ सुरक्षा संबंधी सदस्य के पद के गठन की मंजूरी दे चुके हैं. 

यह भी पढ़ें: रेलवे ने टिकटों की बिक्री से नहीं बल्कि टिकट कैंसिलेशन से कमाए 13.94 अरब रुपये

इसके साथ बोर्ड के सदस्यों की संख्या पांच से बढ़कर आठ हो जाएगी. सूत्रों ने कहा कि मंत्रालय जल्द ही मंजूरी के लिए मंत्रिमंडल के पास प्रस्ताव भेजेगा. एक सूत्र ने कहा, ‘‘सदस्य (कर्मचारी) से जुड़ा कदम सही दिशा में उठाया गया कदम है क्योंकि कर्मियों के क्षेत्र का एक विशेषज्ञ विभाग का नेतृत्व करेगा, जिससे रेलवे में बेहतर मानवश्रम की योजना एवं मानव संबंधों के निर्माण में मदद मिलेगी.’’

VIDEO:  नौकरी देने में हो रही है देरी?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com