NDTV Khabar

तूफान 'ओखी' के बाद केरल में क्रिसमस का त्योहार रहा फीका

केरल में क्रिसमस के अवसर पर विशेष प्रार्थना सभा, मध्य रात्रि प्रार्थना का आयोजन हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तूफान 'ओखी' के बाद केरल में क्रिसमस का त्योहार रहा फीका

फाइल फोटो

खास बातें

  1. केरल में मना क्रिसमस का त्योहार
  2. तूफान ओखी के बाद फीका रहा त्योहार
  3. तूफान के दौरान समुद्र में फंसे 59 मछुआरों ने भी हिस्सा लिया
तिरूवनंतपुरम: केरल में क्रिसमस के अवसर पर विशेष प्रार्थना सभा, मध्य रात्रि प्रार्थना का आयोजन हुआ. लेकिन पिछले महीने चक्रवात ओखी के कारण मची तबाही से इस बार क्रिसमस थोड़ा फीका रहा. राज्य भर के गिरिजाघरों में वरिष्ठ पादरियों ने प्रार्थना सभा का नेतृत्व किया और क्रिसमस पर संदेश दिया.

यह भी पढ़ें: तूफान 'ओखी' से हुई तबाही का जायजा लेने लक्षद्वीप पहुंचे PM मोदी, अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

टिप्पणियां
पुनथुरा के नजदीक एक स्थानीय गिरिजाघर में आयोजित मध्य रात्रि की प्रार्थना सभा में उन 59 मछुआरों ने भी हिस्सा लिया, जो तूफान के दौरान समुद्र में फंस गए थे और बाद में उन्हें निकाला गया था. मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने अपने क्रिसमस संदेश में लोगों से अपील की कि चक्रवात प्रभावित लोगों के साथ एकजुटता दिखाएं क्योंकि राज्य अब भी इससे नहीं उबरा है.

VIDEO: चक्रवाती तूफान ओखी के चलते 10 लोगों की मौत, 42 से ज़्यादा मछुआरे लापता
राज्यपाल पी. सदाशिवम ने कामना की कि क्रिसमस का यह त्योहार लोगों का जीवन ‘‘प्यार, दया, उदारता और क्षमा की भावना से’’ समृद्ध करे और सामाजिक सद्भाव को मजबूत करे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement