IIT हैदराबाद में वेतन की मांग को लेकर प्रवासी मजदूरों का हंगामा, पुलिस पर भी किया पथराव

देश में जारी कोरोना संकट और लॉकडाउन से सबसे अधिक परेशान प्रवासी मजदूर हैं. बुधवार को आईआईटी हैदराबाद में प्रवासी मजदूरों ने वेतन की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया.

IIT हैदराबाद में वेतन की मांग को लेकर प्रवासी मजदूरों का हंगामा, पुलिस पर भी किया पथराव

IIT हैदराबाद में मजदूरों ने किया प्रदर्शन

हैदराबाद:

देश में जारी कोरोना संकट और लॉकडाउन से सबसे अधिक परेशान प्रवासी मजदूर हैं. बुधवार को आईआईटी हैदराबाद में प्रवासी मजदूरों ने वेतन की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया. लगभग 2,600 बिहार और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के प्रवासी मजदूरों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. उनकी शिकायत थी कि उन्हें COVID-19 लॉकडाउन के बीच लगभग दो महीने से वेतन नहीं मिला है, उन्हें वेतन दिया जाए और घर जाने की छूट मिले. उग्र श्रमिकों ने निर्माण कंपनी के अधिकारियों पर हमला भी कर दिया.

मजदूरों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस बल को बुलाना पड़ा. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बल पर भी हमला कर दिया जिसमें एक पुलिस अधिकारी घायल हो गए.गौरतलब है कि लॉकडाउन में  सरकार ने कहा है कि जिन कंपनियों ने अनुबंध के कर्मचारियों को नियुक्त किया है, उन्हें मार्च और अप्रैल के महीनों के लिए अपने वेतन का भुगतान करना चाहिए. लेकिन कंपनी ने मजदूरों को वेतन नहीं दिया था. इस सप्ताह, निर्माण कंपनी को फिर से काम शुरू करने की अनुमति मिली थी. 

jh6d2nrs

सूत्रों के अनुसार पुलिस अधिकारी घटना पर सख्त रुख अपनाने से बचते रहे और उन्होंने मजदूरों से कहा है कि अगर उन्हें घर जाने की अनुमति दे भी दी जाती है, तो भी उनके राज्य उन्हें वापस लेने के लिए अभी तैयार नहीं है. इधर निर्माण कंपनी ने लंबित वेतन का भुगतान गुरुवार तक करने का वादा किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गौरतलब है कि भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर बढ़ता जा रहा है. देश में जारी लॉकडाउन (COVID-19 Lockdown) के बावजूद संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है.  इस बीच देश में कोरोनावायरस का मामला 32 हजार के करीब पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 31787 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1813 नए मामले सामने आए हैं और 71 लोगों की मौत हुई है.