NDTV Khabar

सेना के इतिहास में पहली बार नहीं हुआ ‘दिल्ली कैंट’ जैसा मामला, कई वारदातों पर बन चुकी हैं फिल्में

बीते शनिवार को दिल्ली के केंट मेट्रो स्टेशन के पास मेजर की पत्नी की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सेना के इतिहास में पहली बार नहीं हुआ ‘दिल्ली कैंट’ जैसा मामला, कई वारदातों पर बन चुकी हैं फिल्में

दिल्ली के बेहद संवेदनशील कैंट इलाके में शैलजा द्विवेदी की शनिवार को गला रेतकर हत्या कर दी गई थी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सेना के इतिहास में पहली बार नहीं हुआ ‘दिल्ली केंट’ जैसा मामला
  2. पहले भी हो चुकी हैं ऐसी वारदात
  3. कई वारदातों पर बन चुकी हैं फिल्में
नई दिल्ली: बीते शनिवार को दिल्ली के केंट मेट्रो स्टेशन के पास मेजर की पत्नी की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी. आरोप मेजर की साथी पर ही लगा है. सोमवार को आरोपी मेजर को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया. साथी अधिकारी की पत्नी की हत्या के आरोप में सेना के एक मेजर की गिरफ्तारी भारतीय सश्स्त्र बलो के इतिहास में यह पहला ऐसा मामला नहीं है, जो उनके कथित अनुचित आचरण से जुड़ा है. इससे पहले भी अलग अलग वक्त में इस तरह के कई मामले सुर्खियों में आए हैं. 

1959 नानावती मामला  
27 अप्रैल 1959 को नौसेना कमांडर के एम नानावती ने अपनी पत्नी के प्रेमी प्रेम आहुजा की हत्या कर दी थी. इस मामले में नानवती पर मुकदमा चला था. जूरी ने पहले नानावती को निर्दोष घोषित किया लेकिन बंबई उच्च न्यायालय ने फैसले को खारिज कर दिया था और मामले की फिर से सुनवाई हुई थी. यह मामला भारत में जूरी द्वारा सुनवाई किए जाने वाले अंतिम मामलों में से एक था. बंबई की राज्यपाल विजयलक्ष्मी पंडित ने नानावती को माफी दे दी थी. इस मामले पर कई किताबें लिखी गई हैं और फिल्में बनी हैं. 

यह भी पढ़ें: कोर्ट ने शैलजा द्विवेदी की हत्या के आरोपी मेजर हांडा को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया
 
shailza dwivedi
दिल्ली कैंट इलाके में मेजर की पत्नी की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी

1982 सिकंद हत्या मामला  
ले. कर्नल एसजे चौधरी को निचली अदालत ने दो अक्तूबर 1982 को दिल्ली के कारोबारी किशन सिकंद की हत्या के मामले में 26 साल की सुनवाई के बाद उम्र कैद की सजा सुनाई थी. बाद में उन्हें उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया था और हत्या के आरोपों को भी खत्म कर दिया था. अभियोजन के मुताबिक, अपनी पत्नी से सिकंद की नजदीकियों से वह नाराज थे. अभियोजन ने आरोप लगाया था कि सिकंद की हत्या के लिए जिस पार्सल बम का इस्तेमाल किया गया था वो पाकिस्तान में बना था और 1971 में जंग में जीत के बाद भारतीय सेना ने उसे जब्त किया था. 

2007 कैप्टन मेघा राजदान की मौत  
अपने पति कैप्टन चैतन्य भाटवडेकर के विवाहत्तेर संबंध की वजह से एक जुलाई 2007 को जम्मू के कुंजावानी सैन्य शिविर में स्थित अपने आधिकारिक आवास में कैप्टन मेघा राजदान ने खुदकुशी कर ली थी. जब चैतन्य को इल्म हो गया कि उसके प्रेम प्रसंग के बारे में मेघा को मालूम हो गया है तो उसने अपनी पत्नी से कथित रूप से दुर्व्यवहार करना शुरू कर दिया था. 
 
delhi
शैलजा द्विवेदी हत्याकांड के आरोपी निखिल के खून से सने कपड़े बरामद कर लिये गये हैं.​

यह भी पढ़ें: एक कत्ल और 12 बातें : दोस्ती, दिल्लगी और दीवानगी, शैलजा के पति को क्या 'सब कुछ' पता था

2008 नीरज ग्रोवर हत्या मामला 
पुलिस ने मारिया सुसाइराज और उसके मंगेतर नौसेना अधिकारी एमिल जेरोम को नीरज ग्रोवर की हत्या के लिए गिरफ्तार किया था. जेरोम को शक था कि मारिया और ग्रोवर का प्रसंग चल रहा है. जेरोम और मारिया ने ग्रोवर के शव के टुकड़े-टुकड़े कर दिए थे. 

टिप्पणियां
2018 मेजर की पत्नी की हत्या
उत्तर प्रदेश के मेरठ से कल रात 40 वर्षीय मेजर निखिल हांडा को साथी अधिकारी की पत्नी शैलजा द्विवेदी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने दावा किया कि हांडा शैलजा से एक तरफा प्यार करता था और उससे शादी करना चाहता था. आरोपी खुद शादीशुदा है और उसके दो बच्चे हैं. 

VIDEO: दिल्ली में मेजर की पत्नी की हत्या का मामला सुलझा, सेना का दूसरा मेजर गिरफ्तार
बता दें कि शनिवार को पश्चिम दिल्ली के कैंट मेट्रो स्टेशन के पास दिनदहाड़े मेजर की पत्नी की गला रेतकर हत्या कर दी गई. महिला के कपड़े बुरी तरह से फटे हुए थे. जांच में पता चला कि हत्या के बाद शव पर गाड़ी भी चढ़ाई गई थी. शाम के समय घटना से अनजान महिला के पति मेजर अमित द्विवेदी पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचे. उन्होंने मृतका की पहचान पत्नी शैलजा द्विवेदी (32) के रूप में की थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement