कृषि मंत्रालय ने 2020-21 में 10.23 करोड़ टन चावल उत्पादन का अनुमान जताया

देश में कृषि बिल को लेकर जारी आंदोलन के बीच सरकार ने देश में मौजूदा फसल वर्ष 2020-21 की खरीफ फसल में 10.23 करोड़ टन चावल उत्पादन का अनुमान जताया है. 

कृषि मंत्रालय ने 2020-21 में 10.23 करोड़ टन चावल उत्पादन का अनुमान जताया

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

देश में कृषि बिल को लेकर जारी आंदोलन के बीच सरकार ने देश में मौजूदा फसल वर्ष 2020-21 की खरीफ फसल में 10.23 करोड़ टन चावल उत्पादन का अनुमान जताया है. कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक मानसून अच्छा रहने से धान की पैदावार अच्छी रहने की उम्मीद है. इससे पिछले वर्ष 2019-20 की खरीफ फसल के दौरान 10.19 करोड़ टन चावल का उत्पादन हुआ था. केन्द्रीय कृषि मंत्रालय ने मंगलवार को 2020- 21 की प्रमुख खरीफ फसलों का पहला अग्रिम उत्पादन का अनुमान जारी किया. इसके मुताबिक चालू खरीफ सत्र में कुल खाद्यान्न पैदावार 14.45 करोड़ टन रहने का अनुमान है. केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि देश में रिकॉर्ड 144.52 मिलियन टन खाद्यान्न उत्पादन का अनुमान है.

जबकि पिछले साल इसी मौसम में 14.33 करोड़ टन खाद्यान्न उत्पादन हुआ था. हालांकि, इस दौरान मोटे अनाजों का उत्पादन पिछले साल के 3.37 करोड़ टन के मुकाबले 3.28 करोड़ टन रहने का अनुमान लगाया गया है. वहीं दलहन उत्पादन पिछले फसल वर्ष में खरीफ के दौरान हुये 77.20 लाख टन के मुकाबले इस साल खरीफ में बढ़कर 93.10 लाख टन रहने का अनुमान है. तिलहन उत्पादन खरीफ सत्र में 2.57 करोड़ टन रहने का अनुमान है. पिछले साल यह 2.23 करोड़ टन रहा था. वहीं गन्ने का उत्पादन बढ़कर 39.98 करोड़ टन रहने का अनुमान है. (इनपुट भाषा से भी)

VIDEO: नए कृषि बिलों से क्यों डर रहे हैं किसान ?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com