NDTV Khabar

मुंबई में लापता डॉक्टर दीपक अमरापुरकर का शव वर्ली में नाले के पास मिला

मुंबई में 7 लापता लोगों में से एक डाक्टर दीपक अमरापुरकर का शव बरामद हो गया हैं. उनका शव वर्ली में नाले के पास मिला है. इससे पहले एलफिंस्टन में उनके एक मैनहोल में गिरने की आशंका जताई गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई में लापता डॉक्टर दीपक अमरापुरकर का शव वर्ली में नाले के पास मिला

मुंबई के डॉक्टर का शव बरामद

खास बातें

  1. वर्ली में नाले के पास मिला शव
  2. पेट से जुड़े मामलों के बेहतरीन डॉक्टर
  3. कुछ चश्मदीदों ने उन्हें गिरते हुए देखा था
मुंबई:

मुंबई में बारिश 7 लापता लोगों में से एक डॉक्टर दीपक अमरापुरकर का शव बरामद हो गया हैं. उनका शव वर्ली में नाले के पास मिला है. इससे पहले एलफिंस्टन में उनके एक मैनहोल में गिरने की आशंका जताई गई. वह पेट से जुड़े मामलों के बेहतरीन डॉक्टरों में से एक थे. घर के पास ज़बरदस्त पानी भरे होने के चलते वह गाड़ी छोड़ पैदल घर के लिए निकल गए थे. इस दौरान खुले पड़े एक मैनहोल में गिरने के चलते जान गवां दी. कुछ चश्मदीदों ने उन्हें गिरते हुए देखा. उनकी छतरी से उनकी पहचान हुई है.

यह भी पढ़ें : मुंबई की बारिश में ऐसा क्‍या कर डाला लारा दत्ता ने, जो नाराज़ हो गए पति महेश भूपति

304 ए के तहत मामला दर्ज करने की मांग
बॉम्बे अस्पताल के डॉक्टर दीपक अमरापुरकर की मैनहोल में गिरकर हुई मौत पर फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर धारा 304 ए के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है. मामले में राज्य सरकार, बीएमसी आयुक्त, सीवेज ऑपरेशन विभाग के मुख्य इंजीनियर, स्ट्रॉम वाटर ड्रेन के मुख्य इंजीनियर और मुंबई पुलिस आयुक्त को भी पार्टी बनाया गया है. 


50 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग
याचिका में बीएमसी से 50 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग भी की गई ताकि उस पैसे से एक चैरिटेबल इंस्टीट्यूट या सामाजिक संस्था बनाई जा सके जो मैनहोल के बारे में दिशा निर्देश जारी कर सके. साथ ही अदालत से मुख्यमंत्री को यह आदेश देने को कहा गया है कि वह मामले में बीएमसी के संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय करें. वकील आशीष मेहता के मुताबिक जनहित याचिका शुक्रवार को मेंसन की जाएगी. 

टिप्पणियां

VIDEO: पटरी पर लौट रही मुंबई की जिंदगी

उधर, भारी बारिश के बाद मुंबई में धीरे-धीरे हालात सुधर रहे हैं. सब कुछ पटरी पर लौट रहा है, हालांकि आज भी भारी बारिश की चेतावनी है. इससे पहले एक दिन की बारिश ने जैसे मुंबई की कमर ही तोड़ दी. इसके चलते मुंबई और आस पास मरने वालों की संख्या 15 हो गई है जिनमें 6 लोग मुंबई में मारे गए हैं. 4 लोग ठाणे और 4 लोग पालघर में जान गंवा बैठे हैं. इसके साथ ही पानी उतरने के साथ-साथ जगह कचरे का अंबार लग गया है. गंदे पानी के चलते बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है. पहले से खस्ताहाल मुंबई की सड़कों के गड्डे और गहरे हो गए हैं. सैलाब से जान माल के साथ-साथ भारी आर्थिक नुकसान की भी आशंका है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement