NDTV Khabar

घर जा रही मॉडल की कैब रास्ते में रोक मनचलों ने ड्राइवर से की मारपीट, Video बनाने पर तोड़ा फोन

मॉडल और एक्टर उशोशी सेनगुप्ता का कथित तौर पर काम के बाद उबर कैब से घर लौटने के दौरान कुछ अज्ञात लड़कों के ग्रुप द्वारा पीछा करने और ड्राइवर पर हमला करने का मामला सामने आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
घर जा रही मॉडल की कैब रास्ते में रोक मनचलों ने ड्राइवर से की मारपीट, Video बनाने पर तोड़ा फोन

कोलकाता एक्टर उशोशी सेनगुप्ता

खास बातें

  1. कोलकाता मॉडल के साथ बदसलूकी
  2. घर जाते वक्त कैब ड्राइवर से कुछ लड़कों ने की मारपीट
  3. फेसबुक पर पोस्ट लिखकर बताई पूरी घटना
नई दिल्ली:

मॉडल और एक्टर उशोशी सेनगुप्ता का कथित तौर पर काम के बाद उबर कैब से घर लौटने के दौरान कुछ अज्ञात लड़कों के ग्रुप द्वारा पीछा करने और ड्राइवर पर हमला करने का मामला सामने आया है. उशोशी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक लंबी पोस्ट लिखा और उसमें एक वीडियो के साथ कार की टूटी हुई शीशे की तस्वीर भी शेयर की. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ लड़के ड्राइवर से शीशा खोलने के लिए फोर्स करते हैं. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने उशोशी द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

संसद में शपथ के बाद SP सांसद बोले- संविधान जिंदाबाद, पर वंदे मातरम नहीं बोलूंगा, क्योंकि...

साल 2010 की पूर्व मिस यूनिवर्स कंटेस्टेंट उशोशी पांच सितारा होटल से अपने सहकर्मी के साथ रात करीब 11.40 बजे वापस घर लौट रही होती हैं, तभी रास्ते में मोटरसाइकिल से सवार कुछ लड़के कैब रोकते हैं और ड्राइवर से मारपीट करते हैं. सेनगुप्ता ने अपने पोस्ट में लिखा, इस दौरान वह चिल्लाई और घटना का वीडियो बनाते वक्त पुलिस को कॉल किया. उशोशी ने अपने पोस्ट में दावा किया है कि पास के मैदान पुलिस स्टेशन में मौजूद ऑफिसर तुरंत उनकी मदद करने के लिए नहीं आए, बल्कि कई बार अनुरोध करने के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची.


उशोशी के पोस्ट के मुताबिक जब पुलिस अधिकारी पहुंचे तो वहां मौजूद लड़के उन्हें धक्का देकर भाग निकले. कथित तौर पर छह लोगों ने उशोशी और उनके सहकर्मी का पीछा किया और कार पर पत्थर फेंका, जिसके बाद उन्हें कार से बाहर खींच निकाला. उन्होंने दावा किया कि आरोपी ने उनका फोन तोड़ने की कोशिश की और रिकॉर्ड किए गए वीडियो को डिलीट किया. कथित जानकारी के मुताबिक जब स्थानीय लोग आस-पास इकठ्ठा होने लगे तो लड़कों ने हमला बंद कर दिया.

नशे में धुत रिटायर्ड फौजी ने की बेटी से रेप की कोशिश, नाकाम हुआ तो मारी गोली 

उशोशी ने फेसबुक पर यह भी लिखा, ''उन्होंने मेरे कार को रोका, पत्थर फेंके और मुझे बाहर निकाला और वीडियो डिलीट करने के लिए मेरा फोन तोड़ने की कोशिश भी की. मेरे सहकर्मी डर के मारे कूद पड़ी और मैंने स्थानीय लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए चिल्लाना शुरू कर दिया.''

टिप्पणियां

dfip655g

उशोशी सेनगुप्ता ने यह भी आरोप लगाया कि चारू मार्केट पुलिस स्टेशन में पुलिस अधिकारी ने शिकायत तो दर्ज की, लेकिन ड्राइवर की कंप्लेंन लेने से मना कर दिया. कोलकाता पुलिस ने कहा है कि इस मामले में जांच शुरू कर दी है. कोलकाता पुलिस ने ट्विटर हैंडलर पर लिखा, हमने इस घटना को बहुत ही गंभीरता से लिया है और 7 लोगों को गिरफ्तार किया है. कोलकाता के पुलिस कमिश्नर के आदेश पर इस मामले में जांच शुरू कर दी गई है.''



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement