एक के बाद एक कई राज्यों में हार के बाद जनवरी से चल रहे अभियान में तेजी लाएगी मोदी सरकार, 'हर काम देश के नाम'

‘‘हर काम देश के नाम’’ अभियान जनवरी से चल रहा है लेकिन एक के बाद एक कई राज्यों में बीजेपी को शिकस्त मिलने के बाद इसमें तेजी लाने का फैसला किया गया है. 

एक के बाद एक कई राज्यों में हार के बाद जनवरी से चल रहे अभियान में तेजी लाएगी मोदी सरकार, 'हर काम देश के नाम'

जनवरी से चल रहे अभियान में तेजी लाएगी मोदी सरकार.

खास बातें

  • बड़े पैमाने पर प्रचार अभियान चलाएगी मोदी सरकार
  • डेढ़ महीने तक पूरे देश के समाचार माध्यमों में चलाया जाएगा अभियान
  • अभियान का नाम "हर काम देश के नाम"
नई दिल्ली:

दिल्ली के चुनाव में जबरदस्त हार का मुंह देखने के कुछ ही घंटे बाद सभी केंद्रीय मंत्रियों को अपने मंत्रिमंडल सहयोगी और पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर से एक पत्र मिला जिसमें संबंधित मंत्रालयों को अपने-अपने यहां किए गए कल्याणकारी कामों को उजागर करने के लिए अभियान तैयार करने का निर्देश दिया गया है. जावड़ेकर ने मंगलवार की शाम को यह पत्र जारी किया और अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों को 15 फरवरी से 31 मार्च के बीच अपने-अपने मंत्रालय के ‘‘लोक कल्याणकारी कार्य'' के बारे में टेलीविजन, अखबार, आउटडोर और डिजिटल माध्यमों से जनता को सूचित करने को कहा. हालांकि ‘‘हर काम देश के नाम'' अभियान जनवरी से चल रहा है लेकिन एक के बाद एक कई राज्यों में बीजेपी को शिकस्त मिलने के बाद इसमें तेजी लाने का फैसला किया गया है. 

कैसे AAP की मेहनत और प्रशांत किशोर की रणनीति ने जिताई दिल्ली, पढ़ें इनसाइड स्टोरी

पत्र में कहा गया है कि डेढ़ महीने का यह प्रचार अभियान ‘‘हर काम देश के नाम'' शीर्षक से चलेगा. जावड़ेकर ने मंत्रियों से इस संबंध में अपने-अपने अधिकारियों को तत्काल निर्देश जारी करने का अनुरोध किया. भाजपा को दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी से हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा और आप की 62 सीटों के मुकाबले उसे सिर्फ आठ सीटें मिलीं.

अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को रामलीला मैदान में लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ

भाजपा ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान उसने केंद्र के कार्य को भी रेखांकित किया. कई विपक्षी दलों ने AAP की जीत का क्रेडिट केजरीवाल सरकार के कामों और विकास मॉडल को दिया. 

Video: 16 फरवरी को रामलीला मैदान में शपथ लेंगे अरविंद केजरीवाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

भाजपा ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान उसने केंद्र के कार्य को भी रेखांकित किया. कई विपक्षी दलों ने AAP की जीत का क्रेडिट केजरीवाल सरकार के कामों और विकास मॉडल को दिया.