शपथ लेने के एक दिन बाद PM मोदी का पहला बड़ा फैसला, राष्ट्रीय रक्षा कोष की छात्रवृत्ति बढ़ाई

प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के एक दिन बाद ही नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अगुवाई में नई सरकार ने अपनी दूसरी पारी में पहला अहम फैसला लिया है.

शपथ लेने के एक दिन बाद PM मोदी का पहला बड़ा फैसला, राष्ट्रीय रक्षा कोष की छात्रवृत्ति बढ़ाई

पीएम नरेंद्र मोदी.

खास बातें

  • शपथ लेने के बाद पीएम मोदी का बड़ा फैसला
  • राष्ट्रीय रक्षा कोष के तहत छात्रवृत्ति बढ़ाई गई
  • राष्ट्रीय रक्षा कोष की स्थापना 1962 में की गई थी
नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के एक दिन बाद ही नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अगुवाई में नई सरकार ने अपनी दूसरी पारी में पहला अहम फैसला लिया है. सरकार ने राष्ट्रीय रक्षा कोष के तहत प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना के हिस्से के रूप में दी जाने वाली राशि में वृद्धि कर दी है. अब लड़कों की छात्रवृत्ति की राशि 2,000 रुपये से बढ़ाकर 2,500 रुपये मासिक कर दी गई है, जबकि लड़कियों को मिलने वाली राशि 2,250 रुपये मासिक से बढ़ाकर 3,000 रुपये मासिक कर दी गई है. छात्रवृत्ति के दायरे को भी बढ़ाकर इसमें प्रदेश पुलिस के उन कर्मियों के बच्चों को शामिल किया है जो आतंकी व नक्सली हमले के दौरान शहीद हुए हैं.

मोदी सरकार में इस बार अहम जिम्मेदारियां निभाएंगी ये 6 महिलाएं, जानें उनका नाम...

राष्ट्रीय रक्षा कोष की स्थापना 1962 में की गई थी, जिसके तहत राष्ट्रीय रक्षा प्रयासों को प्रोन्नत करने के लिए नकदी व अन्य वित्तीय उपकरणों के रूप में ऐच्छिक दान प्राप्त किया जाता है. आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी  (PM Narendra Modi) नीत नई सरकार के मंत्रिमंडल में सबसे ज्यादा संख्या में उत्तर प्रदेश के नेताओं को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई. मंत्रिमंडल में इस राज्य से 10 सांसदों को शामिल किया गया है. इन 10 नेताओं में से वाराणसी के सांसद नरेंद्र मोदी भी शामिल हैं. इसके बाद महाराष्ट्र के सात और बिहार के छह प्रतिनिधियों को नए मंत्रिमंडल में जगह मिली है. नई मोदी सरकार (Modi Government) में गुजरात, राजस्थान और हरियाणा से तीन-तीन प्रतिनिधियों को मंत्री बनाया गया है. 

PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे शरद पवार, आखिर किस बात से थे नाराज?

इसी तरह मोदी सरकार (Modi Government) में इस बार पश्चिम बंगाल, ओडिशा, मध्य प्रदेश में दो-दो प्रतिनिधियों को मंत्रिमंडल में जगह मिली है. कर्नाटक से चार चेहरों को शामिल किया गया है. नई मंत्रिपरिषद में लगभग सभी राज्यों के प्रतिनिधि शामिल हैं. हालांकि, इसमें आंध्र प्रदेश और पूर्वोत्तर राज्य नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, सिक्किम और त्रिपुरा के किसी भी प्रतिनिधि को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है. शपथ ग्रहण के बाद पीएम नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि मंत्रियों की नई टीम युवा ऊर्जा एवं प्रशासनिक अनुभव' का मेल है और हम साथ मिलकर भारत की प्रगति के लिये काम करेंगे.  

VIDEO: सिटी सेंटर: नरेंद्र मोदी ने ली PM पद की शपथ, सरकार में शामिल नहीं जेडीयू

इनपुट भाषा

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com