NDTV Khabar

मोदी सरकार ने PPF, NCS और अन्‍य छोटी बचत योजनाओं में ब्‍याज दर बढ़ाई

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर अक्तूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.4 प्रतिशत तक बढ़ा दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मोदी सरकार ने PPF, NCS और अन्‍य   छोटी बचत योजनाओं में ब्‍याज दर बढ़ाई

फाइल फोटो

खास बातें

  1. अक्तूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.4 प्रतिशत तक बढ़ा दी है
  2. ब्याज दरों को तिमाही के आधार पर संशोधित किया जाता है
  3. एनएससी पर मौजूदा 7.6 प्रतिशत की जगह अब आठ प्रतिशत ब्‍याज मिलेगा
नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर अक्तूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.4 प्रतिशत तक बढ़ा दी है. लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों को तिमाही के आधार पर संशोधित किया जाता है. वित्तमंत्री ने जारी अधिसूचना में कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के लिए विभिन्न लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें संशोधित की जाती हैं. 

40 साल पहले चोरी हुआ था सर्फबोर्ड, मालिक को मिला वापस, मां ने पैसे बचाकर खरीदा था

- पांच वर्ष की सावधि जमा, आवर्ती जमा और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दरें बढ़ाकर क्रमश: 7.8 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत कर दी गयी हैं. हालांकि बचत जमा के लिए ब्याज दर चार प्रतिशत बरकरार है. 


न्यूनतम शेष नहीं रखे जाने पर पीएनबी ने बचत खाता धारकों से वसूले 151.66 करोड़ रुपये

- PPF (पीपीएफ) और एनएससी पर मौजूदा 7.6 प्रतिशत की जगह अब आठ प्रतिशत की सालाना दर से ब्याज मिलेगा. किसान विकास पत्र पर अब 7.7 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा और अब यह 112 सप्ताह में परिपक्व हो जाएगा. 

पीएफ खाते से मोबाइल नंबर है रजिस्टर्ड, तो एक मिस कॉल से जानें बैलेंस और उठाएं इन सुविधाओं का लाभ

टिप्पणियां

- सुकन्या समृद्धि खातों के लिए संशोधित ब्याज दर 8.5 प्रतिशत होगी. एक से तीन साल की सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है.  (इनपुट भाषा से)
 

d6obilv


VIDEO: पेंशन प्लान में कैसे निवेश करें?

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement