NDTV Khabar

पीएम मोदी ने भारत को कारोबार करने के लिहाज से सबसे आसान देश बनाने का वादा किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी ने भारत को कारोबार करने के लिहाज से सबसे आसान देश बनाने का वादा किया
गांधीनगर: वैश्विक निवेशकों को आकर्षित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थिर कर व्यवस्था तथा भरोसेमंद, पारदर्शी और निष्पक्ष नीतिगत वातावरण तैयार कर भारत को कारोबार करने की दृष्टि ‘‘सबसे आसान’’ स्थान बनाने का रविवार को वादा किया।

देश में आर्थिक वृद्धि तेज करने एवं रोजगार सृजन को गति देने के लिये विनिर्माण क्षेत्र को मजबूत बनाने के अपने अभियान आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि परियोजनाओं की मंजूरी के लिए केंद्र एवं राज्य दोनों स्तरों पर एकल खिड़की मंजूरी व्यवस्था स्थापित की जा रही है।

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार के गठन के बाद सात महीने के थोड़े समय में ही ‘निराशा और अनिश्चितता’ का वातावरण दूर हो गया है। उन्होंने कहा, ‘‘पहले दिन से सरकार अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए सक्रियता से काम कर रही है। मेरी सरकार भरोसेमंद, पारदर्शी और निष्पक्ष नीतिगत माहौल तैयार करने को लेकर प्रतिबद्ध है।’’

पिछले साल मई में सम्पन्न हुए आम चुनाव में भाजपा को मिली बड़ी जीत के बाद मई में सत्ता संभालने वाले मोदी ने कहा कि सरकार ‘नीति निर्देशित राजकाज’ देने के लिए काम कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘भारत में कारोबार में आसानी की मुख्य चिंता है और यह हमारी भी चिंता है। मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि हम इन मुद्दों पर गंभीरता से काम कर रहे हैं। हम इसे पहले की तुलना में या दूसरे की तुलना में आसान नहीं बल्कि सबसे आसान बनाना चाहते हैं।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘हम तेजी से आर्थिक सुधारों के चक्र को पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। हम यह भी देखने को लेकर उत्सुक हैं कि हमारी नीतियां भरोसेमंद हो। हमारा स्पष्ट दृष्टिकोण है कि कर व्यवस्था भरोसेमंद हो। पिछले कुछ महीनों में इस दिशा में कई निर्णय किये हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘..हम केवल प्रतिबद्धता जताना और घोषणा नहीं कर रहे हैं। हम उसके लिए ठोस आधार देने के लिए कदम भी उठा रहे हैं।’’ मोदी ने वायब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन में भाग लेने आए अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी, संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की-मून तथा विश्वबैंक प्रमुख जिम योंग किम समेत विश्व के अन्य नेताओं के समक्ष कहा कि भारत ‘बदलाव के रास्ते’ पर है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने अल्प समय में भारत के सुनहरे भविष्य के लिए लोगों के समक्ष प्रतिबद्धता जताई है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इसे करने के बारे में पता है, हमें अनुकूल नीतिगत मसौदे की जरूरत है। हम इसमें आगे और सुधार के लिए निरंतर काम कर रहे हैं।’’

सरकार की तरफ से निवेशकों को हाथ थामने का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप एक कदम चलते हैं, हम आपके लिए दो कदम चलेंगे।’’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement