पीएम ने की 'मुकाबले' की बात, राहुल गांधी बोले- 'एक इंच जमीन नहीं देंगे'

पीएम ने की 'मुकाबले' की बात, राहुल गांधी बोले- 'एक इंच जमीन नहीं देंगे'

जम्मू:

इस महीने की 21 तारीख से शुरू हो रहे संसद के मॉनसून सत्र के हंगामेदार होने की संभावना के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को स्वीकार किया कि सदन में 'मुकाबला' होगा।

जम्मू में कांग्रेस के दिवंगत दिग्गज नेता गिरधारीलाल डोगरा की जन्मशती समारोह को संबोधित करते हुए मोदी ने यह बात कही, जहां उनके साथ राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह ने मंच साझा किया।

परिवारवाद एवं छुआछूत की राजनीतिक विचारधारा का पुरजोर विरोध करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि परस्पर विरोध लोकतंत्र की खूबसूरती है।

कांग्रेस नेताओं की ओर इशारा करते हुए मोदी ने कहा, ‘आज हम लोग मस्ती में यहां बैठे हैं, लेकिन देखिएगा कि कुछ दिनों बाद कैसा मुकबला होता है। यह लोकतंत्र का दर्पण है और यहां राजनीतिक छुआछूत नहीं होता है।’

संसद में विपक्ष द्वारा घेरे जाने की खबरों के बीच सत्तारूढ़ एनडीए के वरिष्ठ मंत्रियों की गुरुवार को दिल्ली में बैठक हुई थी। इसमें अगले सप्ताह से शुरू होने वाले संसद के मॉनसून सत्र के दौरान सरकार के विधायी कामकाज को आगे बढ़ाने की रणनीति तैयार की गई। विपक्षी दल व्यापमं घोटाला, ललित मोदी विवाद, सामाजिक आर्थिक और जातिगत जनगणना जैसे विभिन्न मुद्दों पर सरकार को सदन में घेरने की घोषणा कर चुके हैं।

इधर भूमि विधेयक को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर अपने हमले तेज करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि किसान छह महीने में उनके 56 इंच के सीने को 5. 6 इंच के सीने में बदल कर रख देंगे और एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ेंगे।

राहुल गांधी ने ललित मोदी के साथ संबंधों को लेकर वसुंधरा राजे सरकार को भी निशाने पर लिया और आरोप लगाया कि राजस्थान सरकार को पूर्व आईपीएल बॉस लंदन से रिमोट से चला रहे हैं।

जयपुर में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि मोदी सरकार भूमि अधिग्रहण विधेयक पर तीन बार अध्यादेश जारी कर चुकी है लेकिन इसके बावजूद वह संसद में इसे पारित नहीं होने देंगे।

उन्होंने कहा, ‘पहली बार एक ऐसी सरकार आयी है जो विपक्ष की मदद कर रही है। जब भी उन्हें अवसर मिलता है, सरकार कांग्रेस की मदद करती है। किसानों के मुद्दे पर वे एक अध्यादेश को तीन बार जारी कर चुके हैं। हम संसद में भूमि विधेयक को पारित नहीं होने देंगे, आप देखना। एक इंच जमीन भी नहीं दी जाएगी।’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

राहुल ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी की ‘56 इंच का सीना’ संबंधी टिप्पणी पर चुटकी लेते हुए कहा, ‘छह महीने में यह 56 इंच का सीना 5.6 इंच का रह जाएगा। और कौन इसे 5.6 इंच का करेगा, कांग्रेस पार्टी यह करेगी, इस देश की जनता, किसान और मजदूर यह करेंगे। आप देखना।’

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने राजे सरकार की तुलना आजादी से पहले की ब्रिटिश सरकार से की जब सरकार का ‘रिमोट’ लंदन में होता था।