NDTV Khabar

6 माह की बेटी के साथ थाने में यह महिला कॉन्स्टेबल करती है काम, सोशल मीडिया पर लोग कर रहे सलाम

झांसी में महिला पुलिस कॉन्स्टेबल अर्चना जयंत हर दिन की तरह सामान्य रूप से अपनी ड्यूटी पर थीं. मगर जैसे ही उनकी तस्वीर सोशल मीडिया पर आई, उनके प्रशंसकों की बाढ़ सी आ गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
6 माह की बेटी के साथ थाने में यह महिला कॉन्स्टेबल करती है काम, सोशल मीडिया पर लोग कर रहे सलाम

अपनी बच्ची को डेस्क पर रख काम करती महिला पुलिस कॉन्स्टेबल अर्चना

नई दिल्ली: कोई भी पुलिस स्टेशन अक्सर दो ही लोगों का ठिकाना होता है. पुलिसकर्मी या फिर अपराधी. मगर थाने में जब एक नन्ही सी पड़ी पुलिस स्टेशन की डेस्क पर सोती, खेलती, हंसती-उछलती और अटखेलियां लेती दिख जाए तो यह कोई आम बात नहीं होती. दरअसल, झांसी में महिला पुलिस कॉन्स्टेबल अर्चना जयंत हर दिन की तरह सामान्य रूप से अपनी ड्यूटी पर थीं. मगर जैसे ही उनकी तस्वीर सोशल मीडिया पर आई, उनके प्रशंसकों की बाढ़ सी आ गई. क्योंकि जिस रूप में वह थाने में अपनी ड्यूटी निभाती दिखीं, वह कोई सामान्य बात नहीं. रविवार को ट्विटर पर एक तस्वीर आई, जिसमें अर्चना अपनी बच्ची के साथ दिखीं. थाने में वह एक ही वक्त में अपनी बच्ची की देखभाल भी कर रही हैं और अपनी ड्यूटी भी ईमानदारी से निभा रही हैं. 

सलाम : भदोही के इंस्पेक्टर का अनोखा रिकॉर्ड, गुमशुदा बच्चों की तलाश कर बने 'शतकवीर'

दरअसल, अर्चना झांसी के कोतवाली में पोस्टेड हैं. वह अपनी बच्ची को एक टेबल पर अपने पास रखती हैं ताकि उसकी देखभाल भी कर सके और वह अपना काम भी करती हैं. इस तस्वीर के वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर उनकी प्रशंसा हुई और लोगों ने उनके बॉस से बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की है. 

उत्तर प्रदेश के सीनियर पुलिस अधिकारी राहुल श्रीवास्तव ने तस्वीर को शेयर कर ट्वीट किया- मिलिए, झांसी में कोतवाली में तैनात मदरकॉप अर्चना से, जो मां के साथ-साथ विभाग का काम एक साथ निभा रही हैं. उन्हें मेरा सलाम.  स्थानीय मीडिया रिपोर्ट की मानें तो अर्चना की 6 महीने की बेटी है, जिसका नाम अनिका है. वह अपने साथ अपनी छोटी सी बेटी को पुलिस स्टेशन लाती है, क्योंकि उनके घर पर बच्चे की देखभाल करने वाला कोई नहीं है. जैसे ही बच्ची को डेस्क पर रख अपना काम करतीं अर्चना की तस्वीर उनके सीनियर अधिकारियों तक पहुंची, इसे देख वह काफी प्रभावित हुए. उनके सीनियर अधिकारियों ने उनके इस समर्पण के लिए 1000 रुपये के इनाम की घोषणा की. 

आग लगने वाली घटना में पुलिसवाले ने 8 लोगों की बचाई जान, रितेश देशमुख ने ट्वीट कर किया सलाम

टिप्पणियां
इस तस्वीर को देखने के बाद ट्विटर पर कई लोगों ने कहा कि पुलिस को कमाकाजी मदर्स और उनके नवजात बच्चे को बेहतर सुविधा देनी चाहिए. वहीं, कुछ ने कहा कि पुलिस सुधार अभी वक्त की मांग है. 

अर्चना के दो बच्चे हैं. एक दस साल की बेटी कनक और दूसरी 6 माह की अनिका. साल 2016 में मास्टर की डिग्री लेने के बाद अर्चना ने पुलिस बल में नौकरी शुरू कर दी थी. उनके पति हरियाणा के गुड़गांव में एक बड़ी कार मैनुफैक्चरर कंपनी में काम करते हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement