सुपर साइक्लोन अम्फन के कारण मॉनसून में हो सकती है देरी: मौसम विभाग

IMD के डायरेक्टर-जनरल डॉ. मृत्युंजय मोहापात्रा ने गुरुवार को कहा कि भारत में साइक्लोन अम्फन के चलते मॉनसून के आने में देरी हो सकती है.

सुपर साइक्लोन अम्फन के कारण मॉनसून में हो सकती है देरी: मौसम विभाग

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • साइक्लोन अम्फन के चलते मॉनसून में देरी
  • 1 जून की बजाय 5 जून को पहुंचेगा केरल
  • मौसम विभाग का है अनुमान
नई दिल्ली:

भारत में इस बार मॉनसून (Monsoon 2020) देरी से दस्तक दे सकता है. ऐसा भयंकर चक्रवाती तूफान अम्फन (Cyclone Amphan) के चलते हो सकता है. भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department-IMD) के डायरेक्टर-जनरल डॉ. मृत्युंजय महापात्रा ने गुरुवार को कहा कि भारत में साइक्लोन अम्फन के चलते मॉनसून के आने में देरी हो सकती है. IMD चीफ ने बताया कि मॉनसून 1 जून के बजाय 5 जून को केरल के दक्षिणी तट को छू सकता है.

उन्होंने कहा, ‘आमतौर पर मॉनसून 1 जून तक केरल पहुंच जाता है लेकिन अम्फन के चलते इस बार हवा गड़बड़ है. ऐसे में हम मॉनसून में देरी का अनुमान लगा रहे हैं. उम्मीद है कि मॉनसून 1 जून के बजाय 5 जून को केरल पहुंचेगा.' महापात्रा ने यह भी कहा कि चक्रवाती तूफान अम्फन का देश के मौसम पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव पड़ा है.

बता दें कि साइक्लोन अम्फन ने बुधवार को ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में तबाही मचाई है. कोलकाता में तूफानी हवा इतनी शक्तिशाली थी कि यहां पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए, घर उजड़ गए, वहीं 72 लोगों की जान तक चली गई.

गुरुवार को कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने दोनों राज्यों की स्थिति का जायजा लिया है और जहां जरूरत है वहां राहत पहुंचाई जा रही है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि उनकी गृहमंत्री अमित शाह से बातचीत हुई है. उन्होंने यह भी कहा कि वो चाहती हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चक्रवात से प्रभावित इलाकों का दौरा करें.

वीडियो: पीएम मोदी चक्रवात अम्फान से प्रभावित इलाकों का करें दौरा : ममता बनर्जी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com