NDTV Khabar

दिल्ली के दरवाजे पर पहुंचा मॉनसून, झमाझम बारिश के लिए बस कुछ घंटों का और इंतजार...

उत्तर भारत में मॉनसून की आमद, मौसम विभाग ने कहा- गुरुवार या शुक्रवार को राजधानी दिल्ली में पहुंचने की संभावना

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली के दरवाजे पर पहुंचा मॉनसून, झमाझम बारिश के लिए बस कुछ घंटों का और इंतजार...

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. दिल्ली समेत देश के उत्तर-पश्चिम के क्षेत्रों में प्री-मॉनसून बारिश
  2. बिहार, झारखंड समेत कई इलाकों में बारिश के आसार
  3. ओडिशा, पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में बादलों ने डेरा डाला
नई दिल्ली: भीषण गर्मी को झेल रहे दिल्ली समेत उत्तर भारत को जल्द ही राहत मिलने की उम्मीद है. आज यानी कि 28 जून या कल 29 जून को मॉनसून की दिल्ली में आमद होने की आशा है. पिछले कुछ दिनों से 43 से 45 डिग्री सेल्सियस तक के अधिकतम तापमान से बेहाल राष्ट्रीय राजधानी और एनसीआर को मॉनसून का बेसब्री से इंतजार है. उधर देश के पूर्वोत्तर और पश्चिमी तटीय इलाकों में भारी बारिश की संभावना है.    

मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में पहुंच गया है. इसके अगले 24 से 48 घंटों में दिल्ली में दस्तक देने की संभावना है. बुधवार को हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश हुई है. हालांकि अभी मॉनसून के दिल्ली पहुंचने की घोषणा की जानी बाकी है. 

मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि उत्तर भारत के कई हिस्सों में मॉनसून से पहले की बारिश हो रही है. मॉनसून के अगले 24 से 48 घंटों में दिल्ली में दस्तक देने की उम्मीद है. मॉनसून के दिल्ली पहुंचने का सामान्य समय 29 जून है.

यह भी पढ़ें : बारिश से दिल्‍लीवालों को मिली राहत, 29 जून को आएगा मॉनसून, 5 बातें

देश के पूर्वोत्तर और पश्चिमी तटीय इलाकों में इस सप्ताह मानसून की सक्रियता से बारिश हुई है और अगले 24 घंटों के दौरान, पश्चिमी तट में मॉनसून प्रदर्शन बेहतर रहने से मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना बनी हुई है. मौसम पूर्वानुमानकर्ता स्काइमेट की बुधवार की रिपोर्ट में बताया गया है कि तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, विदर्भ, पश्चिम मध्य प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और पूर्वोत्तर भारत में सामान्य वर्षा हो सकती है.

यह भी पढ़ें : प्रदूषण से घिरी दिल्ली; शहर में गर्म हवा और धूल के गुबार, पूर्वोत्तर में बाढ़

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून ने मंगलवार को ओडिशा के कई हिस्सों, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों, और झारखंड और बिहार में काफी स्थानों पर दस्तक दे दी. मॉनसून की उत्तरी सीमा वेरावल, अमरेली, अहमदाबाद, खंडवा, अमरावती, गोंदिया, झारसुगुड़ा, डालटनगंज, और छपरा से गुजर रही है. हालांकि गुजरात, आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा और तमिलनाडु पर मानसून कमजोर रहेगा. 

पिछले 24 घंटों के दौरान, मॉनसून का प्रदर्शन तटीय कर्नाटक में सबसे अच्छा रहा. वहीं कोंकण गोवा, केरल, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, विदर्भ, पश्चिम मध्यप्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, और पूर्वोत्तर भारत में सामान्य मॉनसून की स्थिति देखी गई थी. 

टिप्पणियां
VIDEO : मुंबई में मुसीबतों की बारिश

पिछले 24 घंटों में मंगलुरु में 65 मिमी, कटक में 55 मिमी और शांति निकेतन में 52 मिमी वर्षा रेकॉर्ड की गई. 26 जून तक देशभर के बारिश का आंकड़ा सामान्य से 10 प्रतिशत कम है. दक्षिण भारत में 19 फीसदी अधिक, पूर्व और पूर्वोत्तर में 25 प्रतिशत कम है. उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में 29 और 6 प्रतिशत कम बारिश रेकॉर्ड की गई है.
(इनपुट एजेंसियों से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement