NDTV Khabar

मॉनसून के सामान्य रहने की उम्मीद : स्काईमेट

एजेंसी ने यह भी कहा है कि दक्षिणी प्रायद्वीप और पूर्वोत्तर भारत के एक बड़े हिस्से में इस मौसम में वर्षा ‘‘सामान्य से कम’’ होने के आसार हैं.

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मॉनसून के सामान्य रहने की उम्मीद : स्काईमेट

स्काईनेट ने मॉनसून पर रिपोर्ट दी है.

नई दिल्ली: मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली एक निजी एजेंसी‘ स्काईमेट’ ने कहा कि देश में दक्षिण पश्चिम मॉनसून‘ सामान्य’ रहने की संभावना है. हालांकि, एजेंसी ने यह भी कहा है कि दक्षिणी प्रायद्वीप और पूर्वोत्तर भारत के एक बड़े हिस्से में इस मौसम में वर्षा ‘‘सामान्य से कम’’ होने के आसार हैं.

एजेंसी के एक बयान के मुताबिक भारत में सामान्य सालाना मॉनसूनी वर्षा का दीर्घावधि औसत (एलपीए) शत प्रतिशत रहने की उम्मीद है.

गौरतलब है कि यदि एलपीए की96-104 प्रतिशत तक बारिश होती है, तो मॉनसून को सामान्य माना जाता है. वहीं, 90 प्रतिशत से कम को‘‘ कम’’ मॉनसून तथा 90-96 प्रतिशत को ‘‘सामान्य से कम’’ माना जाता है. 

टिप्पणियां
इसने कहा कि जून में रिकार्ड बारिश होगी. जुलाई में यह सामान्य रहेगी और अगस्त में सामान्य से कम रहेगी. सितंबर में फिर से बारिश जोर पकड़ेगी.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement