NDTV Khabar

एक दिन की छुट्टी के बाद खुले बैंकों में भारी भीड़, आज मिल रही हैं कई नई सुविधाएं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एक दिन की छुट्टी के बाद खुले बैंकों में भारी भीड़, आज मिल रही हैं कई नई सुविधाएं

खास बातें

  1. बैंकों में रात से ही लाइनों में लोग लग गए
  2. अब हफ़्ते में 20,000 के बजाय 24,000 निकाल सकेंगे
  3. चालू खाता से हफ़्ते में 50 हज़ार तक कैश लिमिट
नई दिल्ली: गुरु नानक जयंती की छुट्टी के बाद देशभर के सभी बैंक आज फिर से खुल गए हैं. बैंकों और एटीएम के बाहर लोगों की लंबी कतार बीती रात से ही लग गई थी. लोग कंबल और रजाई लेकर रात से ही बैंक के सामने आकर बैठ गए थे.

टिप्पणियां
गौरतलब है कि करीब हफ्तेभर पहले 500 और 1000 के नोट को बंद किया गया, जिसके बाद से लोगों ने अपने घर का काम जैसे तैसे चलाया. अब ज्यादातर लोगों के घर में कैश की किल्लत हो गई है, लिहाजा वे कतार में हैं. राजधानी दिल्ली के बैंकों का बुरा हाल है. ज्यादातर बैकों के बाहर 200 से 300 लोगों की भीड़ नज़र आ रही है हालांकि राहत के बात यह है कि आज से एटीएम और बैंकों से लोगों को 500 रुपये का नोट मिलने लगेगा. इससे पहले लोगों को 2000 का नोट ही मिल रहा था, जिससे लोगों को खरीददारी करने में दिक्कत आ रही थी.

आज से ये नई या बदली हुई सुविधाएं आपको मिलेंगी
  1. पुराने नोट लेने की तारीख़  (पेट्रोल पंप और अस्पताल आदि में) 14 के बजाय 24 नवंबर
  2.     4,000 के बजाय 4,500 के पुराने नोट बदलें
  3.    अब हफ़्ते में 20,000 के बजाय 24,000 निकाल सकेंगे
  4.     एक दिन में 10,000 के बजाय 24,000 निकाल सकेंगे
  5.     चालू खाता से हफ़्ते में 50 हज़ार तक कैश लिमिट
  6.     बचत खाता से हफ़्ते में 24 हज़ार तक कैश लिमिट
  7.     एक दिन में ATM का इस्तेमाल एक से अधिक बार
  8.     ATM से 2,000 के बजाय 2,500 रुपये निकालें
  9.     ATM रीकैलिब्रेशन की प्रक्रिया तेज़ हो
  10.     ATM के रीकैलिब्रेशन के लिए टास्क फ़ोर्स
  11.     घनी आबादी वाले इलाकों में माइक्रो ATM बढ़े
  12.     बुज़ुर्गों-दिव्यांगों के लिए बैंकों में अलग कतार
  13.     नोट बदलने, जमा करने और निकालने की अलग कतार
  14.     ग्रामीण इलाकों में मोबाइल बैंकिंग वैन भेजी जाएंगी
  15.     लाइफ़ सर्टिफ़िकेट नवंबर से बढ़ाकर 15 जनवरी 2017 तक
  16.     बैंक मोबाइल वॉलेट के इस्तेमाल को बढ़ावा दें
  17.     बैंक डेबिट और क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल को बढ़ावा दें



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement