NDTV Khabar

मध्य प्रदेश में बिजली चोरों से कंपनियों ने वसूले 26 करोड़ रुपये

न्यायालयों में 3707 बिजली चोरी या अनियमितता के मामले पेश किए गए.

162 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश में बिजली चोरों से कंपनियों ने वसूले 26 करोड़ रुपये

भी उपभोक्ताओं से 26 करोड़ 28 लाख रुपये वसूले गए. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मध्य प्रदेश में बिजली चोरी के खिलाफ
  2. कंपनियों ने वसूले रुपए
  3. कोर्ट में भी पेश किए गए मामले
नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में बिजली कंपनियों की ओर से चलाए गए एक अभियान में 28 हजार से ज्यादा बिजली कनेक्शनों में अनियमितता अथवा चोरी पाई गई. इन सभी उपभोक्ताओं से 26 करोड़ 28 लाख रुपये वसूले गए. आधिकारिक तौर पर बुधवार को जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि मध्य प्रदेश की पूर्व, मध्य और पश्चिम क्षेत्र की विद्युत वितरण कम्पनी के विभिन्न क्षेत्र में इस साल मई माह तक एक लाख 80 हजार 871 उच्च-दाब और निम्न-दाब बिजली कनेक्शनों की जांच की गई. जांच में 28 हजार 30 बिजली कनेक्शनों में अनियमितताएं पाई गईं या चोरी के प्रकरण दर्ज हुए. इन प्रकरणों में 26 करोड़ 28 लाख 64 हजार रुपये के राजस्व की वसूली की गई. इस दौरान न्यायालयों में 3707 बिजली चोरी या अनियमितता के प्रकरण प्रस्तुत किए गए.

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के जबलपुर, सागर और रीवा क्षेत्र में कुल 69 हजार 342 बिजली कनेक्शनों की जांच में 14 हजार 788 प्रकरण में बिजली चोरी या अनियमितताएं पाई गईं. इन प्रकरणों में आठ करोड़ 79 लाख 71 हजार रुपये की वसूली की गई. इसी तरह 2,652 चोरी या अनियमितता के प्रकरण विशेष न्यायालय में प्रस्तुत किए गए. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के इंदौर और उज्जैन क्षेत्र में 90 हजार 660 बिजली कनेक्शनों की जांच कर 7,015 में बिजली चोरी या अनियमितता के प्रकरण पकड़े गए और 10 करोड़ 78 लाख 16 हजार रुपये की वसूली की गई. इस दौरान 782 प्रकरण विशेष न्यायालयों में प्रस्तुत किए गए.

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के भोपाल और ग्वालियर क्षेत्र में 20 हजार 869 बिजली कनेक्शन की जांच में 6,227 कनेक्शन में बिजली चोरी या अनियमितताएं पाई गईं. ऐसे उपभोक्ताओं से छह करोड़ 70 लाख 77 हजार रुपये की वसूली की गई. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के 273 प्रकरण विशेष न्यायालयों में प्रस्तुत किए गए.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement