MP: महाराष्ट्र में बंधक बने थे खरगोन के 34 मजदूर, VIDEO सामने आने के बाद कराए गए मुक्त

खरगोन जिले के बामनपूरी, भिकारखेड़ी, नागझिरी गांव के करीब 34 मजदूर महाराष्ट्र के सोलापुर जिले में एक व्यापारी के पास गन्ना कटाई का काम करने गए थे.

MP: महाराष्ट्र में बंधक बने थे खरगोन के 34 मजदूर, VIDEO सामने आने के बाद कराए गए मुक्त

मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के 34 मजदूरों को मुक्त करवा लिया गया

भोपाल:

मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के 34 मजदूरों को प्रशासन के दखल के बाद मुक्त करवा लिया गया. बता दें, खरगोन जिले के बामनपूरी, भिकारखेड़ी, नागझिरी गांव के करीब 34 मजदूर महाराष्ट्र के सोलापुर जिले में एक व्यापारी के पास गन्ना कटाई का काम करने गए थे. जिन्हें खेत मालिक द्वारा बंधक बनाकर काम करवाया जा रहा था. घटना की शिकायत मिलने पर बड़वाह एसडीओपी मानसिंग ठाकुर के प्रयासों के बाद खेत मालिक ने मजदूरों को रिहा कर उनके घर वापस भेजा दिया है.


दरअसल, खरगोन जिले के बड़वाह ब्लाक के अंतर्गत आने वाले ग्राम बामनपुरी निवासी रमेश ने बामनपुरी सरपंच नंदलाल गुर्जर के साथ 15 जनवरी को बड़वाह थाने आकर एसडीओपी मानसिंग ठाकुर के समक्ष एक शिकायती आवेदन दिया था. जिसमें शिकायतकर्ता रमेश ने बताया था कि उसके बहू और बेटे सहित 15 मजदूर परिवार और ग्राम भीकारखेडी के 5 परिवार मजदूरी करने के सोलापुर (महाराष्ट्र) गए थे जहां उन्हें बंधक बना लिया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिकायतकर्ता की तरफ से वीडियो भी दिखाया गया था. शिकायत पर एसडीओपी ठाकुर ने कार्रवाई करने का आश्वासन परिजनों को दिया था. प्रशासन की तरफ से किए गए प्रयासों के बाद रविवार शाम करीब 9 बजे बच्चों सहित करीब 34 मजदूर सकुशल अपने घर वापस आ गए. प्रशासन की तरफ से उठाए गए कदमों से लोगों में खुशी देखी गयी. सभी मजदूरों का कोविड-19 की जांच कर उन्हें उनके घर भेज दिया गया.