NDTV Khabar

बच्चों का यौन शोषण रोकना सरकारों की प्राथमिकता न होने से चिंतित हैं सांसद चंद्रशेखर

राज्यसभा सदस्य राजीव चन्द्रशेखर ने राजनीतिक प्राथमिकता के अनुरूप बच्चों के यौन शोषण के मुद्दे को नहीं उठाए जाने पर खेद जताया

125 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बच्चों का यौन शोषण रोकना सरकारों की प्राथमिकता न होने से चिंतित हैं सांसद चंद्रशेखर

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. कहा- वर्षों से अनदेखी करने के कारण यह मुद्दा व्यापक अनुपात में बढ़ा
  2. व्यक्तियों और समाज द्वारा किए गए प्रयास नेकनीयत वाले
  3. व्यावसायिक यौन शोषण के खिलाफ राष्ट्रीय कार्यवाही योजना शुरू की
नई दिल्ली: देश में बच्चों विशेषकर नाबालिग लड़कियों के व्यावसायिक यौन शोषण को लेकर चिंतित राज्यसभा सदस्य राजीव चन्द्रशेखर ने राजनीतिक प्राथमिकता के अनुरूप इस मुद्दे को नहीं उठाए जाने पर खेद व्यक्त किया.

सांसद ने शुक्रवार को कहा कि हालांकि व्यक्तियों और नागरिक समाज द्वारा किए गए प्रयास ‘‘नेकनीयत’’ वाले हैं और इस खतरे को केवल ‘‘संस्थागत दृष्टिकोण’’ के रूप में उठाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें : दिल्ली के मालवीय नगर के निजी स्कूल में 6 साल की बच्ची का यौन शोषण

चन्द्रशेखर ने कहा कि विभिन्न सरकारों द्वारा ‘‘ वर्षों से अनदेखी’’ किए जाने के कारण यह मुद्दा ‘‘व्यापक’’ अनुपात में बढ़ा है. राज्यसभा सदस्य ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बच्चों के व्यावसायिक यौन शोषण के खिलाफ एक राष्ट्रीय कार्यवाही योजना की शुरुआत की.

VIDEO : शेल्टर होम में शोषण

इस मौके पर मुम्बई में स्थित टाटा सामाजिक विज्ञान संस्थान (टीआईएसएस) के चेयर प्रोफेसर पीएम नैयर भी मौजूद थे. चन्द्रशेखर ने कहा कि बच्चों के व्यावसायिक यौन शोषण के मुद्दे को ‘‘राजनीतिक प्राथमिकता बनाया जाना चाहिए.’’
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement