Covid-19: MP कांग्रेस का फिर निशाना- शिवराज लाए कोरोना, सरकार नहीं गिराते तो...

गुरुवार को मध्य प्रदेश कांग्रेस ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए शिवराज सिंह चौहान सरकार और भाजपा पर निशाना साधा है.

Covid-19: MP कांग्रेस का फिर निशाना- शिवराज लाए कोरोना, सरकार नहीं गिराते तो...

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते कहर के बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस लगातार राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साध रही है. मध्यप्रदेश में भी कोरोनावायरस के काफी मामले सामने आए हैं. गुरुवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक मध्य प्रदेश में अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके लिए कांग्रेस शिवराज सिंह चौहान की सरकार को जिम्मेदार ठहरा रही है. कांग्रेस का कहना है कि राज्य में सत्ता हासिल करने के लिए लॉकडाउन पहले से लागू नहीं किया गया. गुरुवार को मध्य प्रदेश कांग्रेस ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए शिवराज सिंह चौहान सरकार और भाजपा पर निशाना साधा है. 

एक ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा है, 'मध्य प्रदेश में यदि शिवराज का कांग्रेस सरकार गिराने का मिशन नहीं होता, तो लॉकडाउन पहले ही लागू हो जाता और संक्रमण नहीं फैलता.'

वहीं एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस ने राज्य में हुई सिसासी गतिविधियों का क्रम बताया है. उसमें लिखा है, '3 से 12 मार्च : दुनिया में कोरोना से हाहाकार मचा हुआ था और बीजेपी 22 विधायकों को बेंगलुरु ले गई थी. मार्च 13 से 19: स्कूल, सिनेमा, मॉल सब बंद कर दिए गए तो और उधर भाजपा फ़्लोर टेस्ट की मांग करने लगी. मार्च 20 से 23: कमलनाथ सरकार गिराई और शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री बने. मार्च 24: बीजेपी का मिशन पूरा और पूरे देश में लॉकडाउन लगा दिया गया.' कांग्रेस ने इन दोनों ट्वीट के साथ ही लिखा है कि 'शिवराज लाए कोरोना.' इसके बाद यह हैशटेग ट्विटर पर भी ट्रेंड करने लगा. 

वहीं, पूरे देश में कोरोनावायरस के प्रकोप की बात करें तो देश में कोरोना वायरस के कारण मरने वाले लोगों की संख्या गुरुवार को 414 हो गई और मामलों की संख्या बढ़कर 12,380 तक पहुंच गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. मंत्रालय ने हालांकि, बताया कि कोविड-19 के 10,477 मरीजों का अभी भी इलाज चल रहा है, जबकि 1,488 लोग ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है और एक विदेशी नागरिक अपने देश चला गया है. मंत्रालय के मुताबिक, इनमें से महाराष्ट्र में नौ, आंध्र प्रदेश में पांच, गुजरात में तीन, दिल्ली और तमिलनाडु में दो-दो और कर्नाटक में एक-एक मौत हुई है. अब तक कुल 414 मौतों में से, सबसे ज्यादा 187 मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं, इसके बाद मध्य प्रदेश में 53, गुजरात में 33, दिल्ली में 32 पर और तेलंगाना में 18 मौतें हुई हैं.

तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में 14-14 लोगों के मारे जाने की सूचना है. पंजाब में 13 मौतें हुई हैं जबकि कर्नाटक में 12 मौतें हुई हैं और उत्तर प्रदेश में 11 मौतें हुई हैं. पश्चिम बंगाल में सात मौतें दर्ज की गई हैं. जम्मू-कश्मीर में चार लोगों की जान चली गई है जबकि केरल, हरियाणा और राजस्थान में तीन-तीन मौतें हुई हैं. झारखंड में दो मौतें हुई हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, मेघालय, बिहार, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक मौत हुई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इंदौर में कोरोना के 110 कोरोना नए मामले
देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल मध्यप्रदेश के इंदौर में इस महामारी का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है. जिले में बृहस्पतिवार सुबह 110 नये मामले सामने आने के बाद इस महामारी के मरीजों की तादाद बढ़कर 696 पर पहुंच गयी. इसके साथ ही मध्यप्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 1090 हो गयी है. प्रदेश के स्वास्थ्य अधिकारी गुरुवार को बताया कि इसके अलावा बुधवार रात को इंदौर में दो और कोरोना मरीजों की मौत के बाद प्रदेश में कोरोना से मरने वाले की संख्या 55 हो गयी है. इनमें से अकेले इंदौर में 39 लोग मारे गये हैं.

(इनपुट भाषा से भी)