मुंबई में कारोबारी का अपहरण करने वाले दबोचे गए, मुख्य आरोपी लड़ा था लोकसभा चुनाव

Mumbai Crime  : मुंबई में कारोबारी के सरेआम अपहरण की घटना को पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से सुलझाते हुए पांच अपहरणकर्ताओं को दबोच लिया है.

मुंबई में कारोबारी का अपहरण करने वाले दबोचे गए, मुख्य आरोपी लड़ा था लोकसभा चुनाव

मुंबई के मलाड से कारोबारी का अपहरण करने वाले पुलिस के हत्थे चढ़े.

खास बातें

  • शिरडी से लोकसभा चुनाव लड़ चुका है मुख्य आरोपी प्रदीप सरोदे
  • उधार दी गई रकम वापस न करने पर किया था अपहरण
  • अपहृत कारोबारी राकेश पांडे के खिलाफ भी कई आपराधिक मामले दर्ज
मुंबई:

Mumbai Crime  : मुंबई में कारोबारी के सरेआम अपहरण (Kidnapping)की घटना को पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से सुलझाते हुए पांच अपहरणकर्ताओं को दबोच लिया है. इनमें मुख्य आरोपी प्रदीप पर पहले कई आपराधिक केस दर्ज हैं. वह लोकसभा चुनाव भी लड़ चुका है.  दरअसल, रविवार 11 अक्टूबर की शाम मलाड पूर्व के दिंडोशी बस डिपो के पास मर्सिडीज में सवार राकेश पांडे को कुछ लोग अगवा कर ले गए थे. सरेआम अपहरण की घटना से अवाक पुलिस ने घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज खंगाले और अपराधियों की पहचान कर उन्हें दबोच लिया.  

यह भी पढ़ें- अभिनेत्री को शादी का झांसा देकर रेप के आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज

कुरार पुलिस के मुताबिक, घटनास्थल पर वारदात के एक व्यक्ति ने पुलिस को फोन किया लेकिन जब तक पुलिस पहुंचती तब तक अपहरणकर्ता राकेश को दूसरी कार में बैठाकर फरार हो चुके थे. कुरार पुलिस ने मामला दर्ज कर सीसीटीवी फुटेज खंगाला. मामला कारोबारी के अपहरण का था तो क्राइम ब्रांच ने भी जांच शुरू कर दी. क्राइम ब्रांच यूनिट 12 के सीनियर पी आई महेश तावड़े की टीम को सीसीटीवी फुटेज में एक आरोपी का हुलिया जाना पहचाना लगा. उसकी तलाश शुरू की और फिर तकनीकी सर्विलांस की मदद से अलग-अलग जगहों से सभी पांच आरोपियों गिरफ्तार कर लिया गया.

Newsbeep

अपहृत कारोबारी भी आपराधिक प्रवृत्ति का
कार में मिले पीड़ित के फोन से पुलिस ने उसके घरवालों से संपर्क किया और उसकी पहचान पता की. इससे खुलासा हुआ कि अपहृत व्यक्ति के खिलाफ भी मुंबई और ठाणे के कई पुलिस थानों में धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं. दूसरे दिन पीड़ित राकेश पांडे पुलिस को नासिक में गोटी के पास मिल गया लेकिन उसने आरोपियों के बारे में कोई जानकारी नही होने की बात कही. क्राइम ब्रांच डीसीपी अकबर पठान के मुताबिक मुख्य आरोपी प्रदीप सुनील सरोदे के खिलाफ पहले से 10 अपराधिक मामले दर्ज हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मुख्य आरोपी शिरडी से लड़ा था लोकसभा चुनाव
पुलिस के मुताबिक मुख्य आरोपी प्रदीप सरोदे अहमदनगर का बालू माफिया है. उसके खिलाफ 10 से भी ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं. यह भी पता चला है कि 2019 में प्रदीप शिरडी से लोकसभा चुनाव भी लड़ चुका है. उसे 15 हजार वोट भी मिले थे. प्रदीप के पिता से राकेश ने बड़ी रकम उधार ली थी लेकिन रुपये वापस नहीं कर रहा था. इससे नाराज प्रदीप ने डराने-धमकाने के लिए चार साथियों के साथ मिलकर राकेश पांडे का अपहरण किया और फिर छोड़ दिया.