NDTV Khabar

मुंबई में बुजुर्ग आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या, नेता और उसका बेटा गिरफ्तार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई में बुजुर्ग आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या, नेता और उसका बेटा गिरफ्तार

भूपेन्द्र वीरा (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. भू- माफिया के खिलाफ लड़ने के लिए उन्हें निशाना बनाया गया
  2. रात में घर में घुसकर गोली मारी
  3. पत्नी भी घर में मौजूद थीं, लेकिन कोई आवाज नहीं सुनी
मुंबई:

सांताक्रूज में 72 वर्षीय एक आरटीआई कार्यकर्ता की नजदीक से गोली मारकर हत्या कर दी गई. पुलिस ने बताया कि कार्यकर्ता भूपेन्द्र वीरा भू-माफिया, कलीना के आसपास अवैध निर्माण और अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे थे. इस मामले में कांग्रेस के एक पूर्व पार्षद रज्जाक खान और उसके बेटे अमजद खान को गिरफ्तार किया गया है.

टिप्पणियां

पुलिस के मुताबिक, भूपेंद्र वीरा अपने सांताक्रूज स्थित घर में टीवी देख रहे थे, जब 9 बजे के करीब हत्यारे उनके घर में घुसे और उनके सिर में गोली मार दी. लगता है हत्यारे ने साइलेंसर का इस्तेमाल किया, क्योंकि उस समय वीरा की पत्नी घर में ही मौजूद थीं और उन्होंने कोई आवाज नहीं सुनी.
 
इस बीच आम आदमी पार्टी ने दावा किया कि 72 वर्षीय मृतक एक आरटीआई कार्यकर्ता के साथ उनकी पार्टी के समर्थक भी थे. पार्टी का कहना है कि उन्होंने भू-माफिया के खिलाफ कलीना में मोर्चा खोला हुआ था. AAP का यह भी कहना है कि इलाके की कई प्रॉपर्टी की तरह ही भू-माफिया की नजर भूपेंद्र की प्रॉपर्टी पर भी थी. हालांकि पुलिस ने उनके आम आदमी पार्टी से जुड़े होने की पुष्टि नहीं की है.
 
इलाके के लोगों के मुताबिक, भूपेंद्र वीरा और रज्जाक खान के बीच एक प्रॉपर्टी को लेकर विवाद था. रज्जाक खान ने जबर्दस्ती उस प्रोपर्टी को भूपेंद्र से हथिया लिया था, जिसके बाद भूपेंद्र ने रज्जाक के सभी अवैध निर्माणों की आरटीआई के जरिए शिकायत करनी शुरू कर दी थी. दोनों के बीच समझौते के लिए कई बार मीटिंग भी हुई थी लेकिन उस प्रॉपर्टी की कीमत को लेकर सुलह नहीं हो पायी थी.


वीरा के साथ काम कर चुकी सामाजिक कार्यकर्ता और आप की पूर्व नेता अंजलि दमानिया ने आरोप लगाया कि भू माफिया के खिलाफ लड़ने के लिए उन्हें निशाना बनाया गया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement