बीफ की अफवाह पर मारे गए अखलाक के परिवार से मिलने राहुल गांधी भी पहुंचे दादरी

बीफ की अफवाह पर मारे गए अखलाक के परिवार से मिलने राहुल गांधी भी पहुंचे दादरी

दादरी में पीड़ित परिवार से बातचीत करते राहुल गांधी

नई दिल्ली:

राजधानी दिल्ली से सटे दादरी के बिसहड़ा गांव में गोमांस खाने की अफवाह को लेकर मारे गए अखलाक के परिवार से मिलने के लिए आज कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी वहां पहुंचे। राहुल ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर उनसे बातचीत की।

मुलाकात के बाद राहुल ने ट्वीट किया, 'दादरी में मोहम्मद अखलाक के परिवार से मुलाकात की।' वहीं कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि वह दादरी की घटना पर 'चुप्पी' तोड़ें और इसकी निंदा करें।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी परिवार से मिलने गांव पहुंचे थे। प्रशासन ने पहले उन्हें गांव में प्रवेश करने से रोक दिया था, लेकिन बाद में जाने की अनुमति दे दी। (पढ़ें- दादरी की घटना का फायदा बस पार्टियों और नेताओं को मिला : केजरीवाल)

NDTV की टीम पर हमला
इस घटना को लेकर इलाके में तनाव का माहौल है और घटना की कवरेज के लिए पहुंचे मीडियाकर्मियों को स्थानीय लोगों का विरोध झेलना पड़ा। इस बीच स्थानीय लोगों ने NDTV की टीम पर हमला कर दिया, जिसमें NDTV के कैमरामैन को चोट आई। इसके साथ ही NDTV की गाड़ी और कैमरे में भी तोड़-फोड़ की गई। कई अन्य मीडियाकर्मियों के साथ भी धक्का-मुक्की की गई। दरअसल स्थानीय लोग गांव में मीडिया को जाने से रोक रहे हैं। उनका कहना है कि मीडिया की वजह से उन्हें परेशानी हो रही है। मीडियाकर्मी वहां अख़लाक़ की हत्या की घटना का कवरेज़ करने पहुंचे थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पूछताछ से परेशान परिवार
इससे पहले शुक्रवार को भी गांव में नेताओं का तांता लगा रहा था। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा भी शुक्रवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि यह घटना सुनियोजित नहीं थी। यह एक हादसा था। एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। घटना के लिए सभी राजनीतिक दल एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करते रहे। इस बीच लगातार पूछताछ से पीड़ित परिवार भी परेशान हो चुका है और अब सुर्खियों से दूर रहना चाहता है। मीडिया की तमाम ओबी वैन्स के बीच नेताओं की बड़ी गाड़ियों का काफिला शुक्रवार को बिसाहड़ा पहुंचता रहा और वे घटना की जिम्मेदारी का ठीकरा एक-दूसरे के सिर फोड़ते रहे।  

लोगों ने ईंटों से मार-मार कर ली जान
आपको बता दें कि दिल्ली से सटे यूपी में दादरी के बिसाहड़ा गांव में भीड़ ने इस वायुसेना कर्मी के 50 वर्षीय पिता की पीट-पीटकर इसलिए हत्या कर दी, क्योंकि यह अफवाह उड़ी थी कि उसने और उसके परिवार ने गोमांस खाया और घर में रखा था। इस अफवाह के बाद गांववाले मोहम्‍मद अखलाक और उसके बेटे को घर से बाहर घसीटकर लाए और उन्‍हें ईंटों से जमकर पीटा। इस घटना में अखलाक की मौत हो गई, जबकि उसका बेटा गंभीर हालत में अस्‍पताल में भर्ती हैं। जब पुलिस घटनास्‍थल पर पहुंची, तब भी भीड़ उन दोनों को पीट रही थी।