अयोध्या में मुस्लिमों ने सद्भाव के लिए CBI कोर्ट का फैसला स्वीकार किया

अयोध्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों को उम्मीद है कि इसके बाद मथुरा और काशी के मुद्दों को नहीं उछाला जाएगा

अयोध्या में मुस्लिमों ने सद्भाव के लिए CBI कोर्ट का फैसला स्वीकार किया

अयोध्या का एक दृश्य ( प्रतीकात्मक फोटो).

अयोध्या:

अयोध्या (Ayodhya) में मुस्लिम (Muslim) समुदाय के लोग समाज में शांति और सद्भाव के हित में बुधवार को सीबीआई (CBI) की विशेष अदालत के उस फैसले को स्वीकार करते प्रतीत हुए जिसमें 1992 में बाबरी मस्जिद (Babri Masjid)  विध्वंस मामले के सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया. समुदाय के लोगों को उम्मीद है कि इसके बाद मथुरा और काशी के मुद्दों को नहीं उछाला जाएगा.

Newsbeep

हालांकि कुछ लोगों का मानना है कि सीबीआई, विशेष अदालत के फैसले के विरुद्ध अपील दाखिल करेगी.
अयोध्या नगर निगम के पार्षद हाजी असद ने उम्मीद जताई कि इस फैसले के आने के बाद काशी और मथुरा के मुद्दे नहीं उछाले जाएंगे. उन्होंने कहा, “हम आज ऐसे ही फैसले की उम्मीद कर रहे थे. लोग इसके बारे में दो महीने से चर्चा कर रहे थे. मुझे डर लगता है कि काशी और मथुरा के आंदोलन भी शुरू होंगे.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अयोध्या मस्जिद न्यास इंडो इस्लामिक कल्चरल फॉउंडेशन के सचिव अतहर हुसैन ने उम्मीद जताई कि सीबीआई, विशेष अदालत के फैसले के विरुद्ध अपील करेगी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)