NDTV Khabar

मुजफ्फरनगर हिंसा : भाजपा विधायकों की न्यायिक हिरासत बढ़ी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुजफ्फरनगर हिंसा : भाजपा विधायकों की न्यायिक हिरासत बढ़ी

खास बातें

  1. मुजफ्फरनगर हिंसा मामले में जेल में बंद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों-संगीत सोम और सुरेश राणा को शुक्रवार को जिला अदालत में पेश किया गया। अदालत ने दोनों विधायकों की न्यायिक हिरासत 18 अक्टूबर तक बढ़ा दी है।
लखनऊ/मुजफ्फरनगर:

मुजफ्फरनगर हिंसा मामले में जेल में बंद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों-संगीत सोम और सुरेश राणा को शुक्रवार को जिला अदालत में पेश किया गया। अदालत ने दोनों विधायकों की न्यायिक हिरासत 18 अक्टूबर तक बढ़ा दी है।

कड़ी सुरक्षा के बीच बांदा जेल में बंद सुरेश राणा और उरई जेल में बंद संगीत सोम को शुक्रवार को मुजफ्फरनगर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) किरण पाल सिंह की अदालत में पेश किया गया। सीजेएम ने दोनों विधायकों की न्यायिक हिरासत 14 दिन के लिए बढ़ा दी।

उधर, राज्य सरकार ने अब दोनों विधायकों को मुजफ्फरनगर जिला जेल में रखने का फैसला किया है। अदालत में पेशी के बाद दोनों विधायकों को मुजफ्फरनगर जेल ले जाया गया।

टिप्पणियां

इस संबंध में दोनों विधायकों की तरफ से अदालत में अर्जी दी गई थी कि बिना अदालत की इजाजत के कैसे उन्हें दूसरी जेलों में स्थानांतरित किया जा सकता है। इस संबंध में अदालत ने जेल प्रशासन को नोटिस भी जारी किया।


उल्लेखनीय है कि मेरठ के सरदना से विधायक संगीत सोम पर भड़काऊ भाषण देने और अपने फेसबुक अकाउंट पर भड़काऊ  वीडियो लोड करने का आरोप है। वहीं शामली के थाना भवन से विधायक सुरेश राणा पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। दोनों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) भी लगाया जा चुका है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement