NDTV Khabar

'चमकी बुखार' से बच्चों की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट में एक और याचिका दाखिल

याचिका में मांग - मेडिकल एक्सपर्ट की टीम जांच करे कि आखिर किसकी लापरवाही से 100 से ज्यादा बच्चों की जान गई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'चमकी बुखार' से बच्चों की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट में एक और याचिका दाखिल

बिहार के मुजफ्फरपुर सहित अन्य स्थानों पर चमकी बुखार से कुल 130 बच्चों की मौत हो गई है.

नई दिल्ली:

बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की मौत को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक और जनहित याचिका दाखिल हो गई है. वकील शिव कुमार त्रिपाठी ने यह याचिका दायर की है. इससे पहले मंगलवार को भी सुप्रीम कोर्ट में इसी मामले में एक जनहित याचिका दाखिल की गई थी.

याचिका में कहा गया है कि एक मेडिकल एक्सपर्ट की टीम का गठन किया जाए जो चमकी बुखार फैलने की वजह की जांच कर तीन महीनों के भीतर सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट सौंपे. मेडिकल एक्सपर्ट की टीम इस बात की भी जांच करे कि आखिर किसकी लापरवाही से 100 से ज्यादा बच्चों की जान गई.

मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत पर आरजेडी का नीतीश कुमार और मोदी सरकार पर जोरदार हमला

याचिका में मांग की गई है कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार और बिहार सरकार को आदेश दे कि चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों को तत्काल हर संभव मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं. चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों का उपचार मुफ्त कराया जाए. सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार और बिहार सरकार को आदेश दे कि चमकी बुखार से प्रभावित जगहों पर तुरंत एक्सपर्ट डॉक्टरों की टीम और दवाइयां पहुंचाई जाएं.


बिहार में चमकी बुखार से बच्चों की मौत का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, याचिका दाखिल

इससे पहले बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की मौत का मामला मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया. इस मामले में दो वकीलों ने जनहित याचिका दाखिल की. याचिका में कहा गया है कि प्रभावित इलाकों में केंद्र और बिहार सरकार को 500 आईसीयू स्थापित करने और मेडिकल एक्सपर्ट टीम भेजने के निर्देश दिए जाएं. साथ ही 100 मोबाइल ICU मुजफ्फरपुर भेजे जाएं व मेडिकल बोर्ड बनाया जाए.

टिप्पणियां

VIDEO : चमकी बुखार से 130 बच्चों की मौत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement