NDTV Khabar

मुजफ्फरपुर रेप केस : इस कांग्रेस सांसद ने कहा- पीड़ितों और गवाहों को बिहार से बाहर शिफ्ट करो

कांग्रेस की सांसद रंजीत रंजन ने एनडीटीवी से कहा, पीड़ितों और गवाहों को बिहार से बाहर भेजा जाए, गायब हैं मुख्य गवाह

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुजफ्फरपुर रेप केस : इस कांग्रेस सांसद ने कहा- पीड़ितों और गवाहों को बिहार से बाहर शिफ्ट करो

सांसद रंजीत रंजन (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. कहा- जब गवाह गायब हैं तो सीबीआई जांच कैसे करेगी?
  2. मंत्री मंजू वर्मा के इस्तीफे की मांग पर बीजेपी में राय बंटी हुई
  3. नीतीश सरकार के लिए अग्निपरीक्षा बन चुका है मुजफ्फरपुर मामला
नई दिल्ली: मुजफ्फरपुर में लड़कियों के यौन शोषण के मामले पर सोमवार को लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ. कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने मुजफ्फरपुर रेप केस के पीड़ितों और गवाहों को बिहार से बाहर शिफ्ट करने की मांग की.

रंजीत रंजन ने एनडीटीवी से कहा, "जो पीड़ित हैं, गवाह हैं, उनको बिहार से बाहर शिफ्ट किया जाए...जो मेन गवाह हैं वे
गायब हैं. मैं गृह मंत्री से पूछना चाहती थी कि जब गवाह गायब हैं तो सीबीआई जांच कैसे करेगी? लेकिन गृह मंत्री ने
जवाब नहीं दिया."

जैसे-जैसे इस मामले में नए तथ्य सामने आ रहे हैं ये विवाद और गहराता जा रहा है. नीतिश सरकार में मंत्री मंजू वर्मा, जिनके पति का नाम इस विवाद से जोड़ा जा रहा है, उनको इस्तीफा देना चाहिए या नहीं, इस पर बीजेपी में राय बंटी हुई है.  सीपी ठाकुर मानते हैं कि मंजू वर्मा को नैतिकता के आधार पर नीतिश सरकार से इस्तीफा दे देना चाहिए, जब तक सीबीआई की जांच पूरी नहीं हो जाती है. जबकि उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी कहते हैं ये सीपी ठाकुर की निजी राय है पार्टी की नहीं.

यह भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर रेप केस : मामले की जांच की पटना हाई कोर्ट ने मॉनिटरिंग शुरू की

अब इस पूरे मामले की सीबीआई जांच पटना हाई कोर्ट की निगरानी में होगी. नीतीश कुमार ने सोमवार को फिर कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा लेकिन बिना आरोप साबित हुए किसी से भी इस्तीफा मांगना सही नहीं होगा.

टिप्पणियां
VIDEO : लोकसभा में हंगामा

मुजफ्फरपुर मामले की खुलती परतों के साथ ये बात तो साफ हो चुकी है कि राज्य में ये अपराध बेहद संगठित तरीके से होता आ रहा था जिसे सिस्टम के कल पुर्जों की सरपरस्ती हासिल रही होगी. अब ये मामला नीतीश सरकार के लिए एक अग्निपरीक्षा बन चुका है कि वे दोषियों के खिलाफ अपनी कार्रवाई से कितना कड़ा संदेश देते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement