NDTV Khabar

वर्णिका छेड़छाड़ मामला : मेरे बेटे ने शुरू से ही पुलिस के साथ सहयोग किया : सुभाष बराला

प्रेस कांफ्रेंस में भाजपा नेता ने कहा कि उनके बेटे और अन्य आरोपी को इससे पहले जमानत दे दी गई थी क्योंकि उन पर लगे आरोप जमानती थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वर्णिका छेड़छाड़ मामला : मेरे बेटे ने शुरू से ही पुलिस के साथ सहयोग किया : सुभाष बराला

विकास बराला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मैंने जांच को प्रभावित करने का काम नहीं किया :सुभाष बराला
  2. कानून के अनुसार मेरे बेटे के खिलाफ जो कार्रवाई बनती है, वह होनी चाहिए
  3. यह आरोप सही नहीं कि पुलिस सही तरीके से जांच नहीं कर रही
चंडीगढ़ :

हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला ने बुधवार को कहा कि उनके बेटे ने शुरुआत से ही पुलिस के साथ सहयोग किया है. गौरतलब है कि बराला के बेटे और उसके दोस्त को एक आईएएस अधिकारी की बेटी वर्णिका कुंडू का पीछा करने और छेड़छाड़ के आरोपों में गिरफ्तार किया गया. प्रेस कांफ्रेंस में भाजपा नेता ने कहा कि उनके बेटे और अन्य आरोपी को इससे पहले जमानत दे दी गई थी क्योंकि उन पर लगे आरोप जमानती थे. इसके बाद उनका बेटा विकास बराला पुलिस के सामने पेश हुआ.

यह भी पढ़ें : वर्णिका छेड़छाड़ मामला: चंडीगढ़ पुलिस ने विकास बराला को किया गिरफ्तार

पुलिस पर राजनीतिक दबाव नहीं
सुभाष बराला ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, उन्हें (आरोपियों) इससे पहले जांच में शामिल होने को कहा गया और वे थाने पहुंचे. जैसे ही मुझे चंडीगढ़ स्थित मेरे आवास पर नोटिस (समन) लगने के बारे में जानकारी मिली, मैंने तुरंत शहर से बाहर मौजूद विकास से जांच में शामिल होने को कहा. बराला ने विपक्ष के इस आरोप को खारिज किया कि पुलिस इस मामले में राजनीतिक दबाव में काम कर रही है. उन्होंने कहा, ये आरोप बेबुनियाद हैं. मैंने कभी भी जांच को प्रभावित करने का प्रयास नहीं किया. कानून के अनुसार मेरे बेटे के खिलाफ जो कार्रवाई बनती है, वह होनी चाहिए. मैंने कहा है कि पीड़िता मेरी बेटी जैसी है. बराला ने कहा, मुझे लगता है कि यह आरोप सही नहीं है कि पुलिस इस मामले की सही ढंग से जांच नहीं कर रही है.


यह भी पढ़ें : चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामला: CCTV फुटेज में कैद उस रात की दास्‍तान

VIDEO :  चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामले में दबाव के बाद गिरफ्तार हुए आरोपी

टिप्पणियां

बेटे का आया फोन, प्रेस कांफ्रेंस से चले गए बराला
इसके बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष संवाददाता सम्मेलन को यह दावा करते हुए छोड़कर तुरंत चले गए कि उनके पास उनके बेटे का फोन आया है जो चंडीगढ पुलिस के सामने पेश होने वाला है.  

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement