क्‍या है बेंगलुरू में दोपहर में सुनाई दी 'रहस्‍यमयी' तेज आवाज का राज! सोशल मीडिया पर हो रही चर्चा

इस बीच कर्नाटक के नेचुरल डिजास्‍टर मॉनिटरिंग सेंटर ने साफ किया है कि यह आवाज, भूकंप के कारण नहीं आई है. यह आवाज शहर के उत्तरी छोर में स्थित बेंगलुरू एयरपोर्ट से इलेक्ट्रॉनिक सिटी के आईटी हब तक सुनी गई, जो करीब 54 किमी दूर है.

क्‍या है बेंगलुरू में दोपहर में सुनाई दी 'रहस्‍यमयी' तेज आवाज का राज! सोशल मीडिया पर हो रही चर्चा

प्रशासन बेंगलुरू में दोपहर में आई तेज आवाज के स्रोत का पता लगाने की कोशिश कर रहा है

बेंगलुरू:

बेंगलुरू शहर के एक बड़े हिस्से में आज दोपहर एक 'रहस्‍यमयी' तेज आवाज सुनी गई. शहर के निवासियों और सोशल मीडिया पर इसे लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया. यह तेज आवाज किस कारण आई, इसका पता नहीं चल सकता है. इस बीच कर्नाटक के नेचुरल डिजास्‍टर मॉनिटरिंग सेंटर ने साफ किया है कि यह आवाज, भूकंप के कारण नहीं आई है. यह आवाज शहर के उत्तरी छोर में स्थित बेंगलुरू एयरपोर्ट से इलेक्ट्रॉनिक सिटी के आईटी हब तक सुनी गई, जो करीब 54 किमी दूर है. पूर्वी बेंगलुरू के कल्याण नगर, मध्य बेंगलुरू के एमजी रोड और मराठाहल्ली, व्हाइटफील्ड, सरजापुर और हेब्‍बागोडी क्षेत्र में भी यह जैसे क्षेत्रों में भी आवाज सुनी गई. कर्नाटक स्टेट नेचुरल डिजास्टर मॉनिटरिंग सेंटर के निदेशक श्रीनिवास रेड्डी ने ट्वीट किया, "भूकंप की गतिविधि एक क्षेत्र तक सीमित नहीं रहेगी और व्यापक रूप से फैल जाएगी. हमने अपने सेंसर की जांच कर ली है और आज भूकंप की कोई गतिविधि दर्ज नहीं की गई है."

एजेंसी ने ट्वीट किया, "बेंगलुरू में दर्ज की गई गतिविधि भूकंप के कारण नहीं है. भूकंपीय की तरह के जमीन के कंपन को कैप्चर नहीं किया है. यह आवाज पूरी तरह से अज्ञात शोर है." कई लोगों का अनुमान था कि मिराज-2000 जैसे किसी फाइटर प्‍लेन के गुजरना इस आवाज का कारण हो सकता था. बेंगलुरू की इस घटना को लेकर लोगों में इस कदर चर्चा रही कि #Bangalore बुधवार दोपहर को टॉप ट्रेंड बन गया. इस अज्ञात और रहस्‍यमयी आवाज को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोगों के बीच चर्चा होती रही.

 


एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस बारे में कहा, "हम इस आवाज के स्रोत का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. व्हाइटफील्ड क्षेत्र में, हमने पता किया है, वहां अब तक किसी भी संपत्ति को कोई नुकसान नहीं हुआ है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com