चंद्रबाबू नायडू ने कहा- पीएम मोदी से कई बार बात करने की कोशिश की, पीएम ने नहीं दिया समय

नायडू ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार किसी भी राज्य सरकार या अपने सहयोगियों की बात सुनने के लिए जरा भी तैयार नहीं है.

चंद्रबाबू नायडू ने कहा- पीएम मोदी से कई बार बात करने की कोशिश की, पीएम ने नहीं दिया समय

चंद्रबाबू नायडू की फाइल फोटो

खास बातें

  • आंध्रा प्रदेश की जनता के लिए लिया यह फैसला
  • केंद्र सरकार से कई बार बात करने की कोशिश की
  • किसी की भी बात नहीं सुनना चाहती केंद्र सरकार
नई दिल्ली:

केंद्र सरकार से अलग होने के बाद आंध्र प्रदेश के सीएम चेंद्रबाबू नायडू ने एक बाडा खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि अपनी समस्याओं को लेकर वह कई बार पीएम मोदी से मिलना और बात करना चाहते थे लेकिन पीएम ने कभी समय नहीं दिया. गौरतलब है कि चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी पार्टी ने बुधवार को केंद्र सरकार से अलग होने का फैसला किया. इसके बाद टीडीपी ने अपने दो केंद्रीय मंत्रियों को सरकार से वापस बुला लिया है. नायडू ने कहा कि किसी फैसले तक पहुंचने से पहले मैं पीएम मोदी से मिलना चाहता था. इस बाबत मैंने कई बार उनसे भेंट करने की कोशिश की लेकिन उनकी तरफ से कभी समय नहीं मिला.

यह भी पढ़ें: चंद्नबाबू नायडू के आरोपों को भाजपा ने किया खारिज, कांग्रेस ने बताया देरी से उठाया कदम

मैं अब देखना चाहता हूं कि बीजेपी यहां से आगे कैसे काम करती है. नायडू ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार किसी भी राज्य सरकार या अपने सहयोगियों की बात सुनने के लिए जरा भी तैयार नहीं है. हम शुरू से ही आंध्रा के लिए विशेष मांग कर रहे थे. इसका पता पीएम को भी था. उन्होंने कहा कि मैंने अपने स्तर पर आंध्रा को लेकर केंद्र सरकार की सोच को कई बार बदलने की कोशिश भी की लेकिन मुझे सफलता नहीं मिली. मेरे राज्य के लिए यह काफी महत्वपूर्ण समय था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: केंद्र सरकार से अलग हुई टीडीपी.

लिहाजा मैंने अपने राज्य की जरूरतों के लिए आवाज उठाई. और जरूरत पड़ने पर आगे भी उठाता रहूंगा. सीएम नायडू ने कहा कि वह किसी से गुस्सा नहीं है. मैनें यह फैसला सिर्फ और सिर्फ आंध्रा प्रदेश की जनता की भलाई के लिए लिया है.