NDTV Khabar

महाराष्ट्र : राणे का मंत्रिमंडल से इस्तीफा, कांग्रेस में बने रहेंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र : राणे का मंत्रिमंडल से इस्तीफा, कांग्रेस में बने रहेंगे
मुंबई:

महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री नारायण राणे ने लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से आज दूसरी बार अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण पर निर्णय लेने में ढुलमुल रवैया अपनाने का आरोप लगाया और कहा कि वह विधानसभा चुनाव में हार में भागीदार नहीं बनना चाहते हैं।

राज्य में अक्तूबर में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नेतृत्व परिवर्तन की मांग कर रहे राणे ने आज दोपहर मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास पर जाकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। वह चव्हाण के कटु आलोचक हैं।

इस्तीफा सौंपने के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कोंकण क्षेत्र के प्रभावशाली नेता राणे ने चव्हाण पर तीक्ष्ण प्रहार करते हुए उन पर सुस्ती से निर्णय लेने और प्रशासन पर पर्याप्त नियंत्रण नहीं रखने का आरोप लगाया।

राणे ने कहा, 'लोगों के काम से जुड़े फैसले शीघ्र नहीं लिए गए। प्रशासन बेलगाम है। सुस्त प्रशासन लोगों के कामकाज को प्रभावित कर रहा है और लोकसभा चुनाव में असंतोष प्रकट हो गया है।' उन्होंने कहा, 'मैं विधानसभा चुनाव में हार में भागीदार नहीं बनना चाहता और इसलिए मैंने इस्तीफा दिया है।' लंबे समय से मुख्यमंत्री पद के आकांक्षी रहे राणे ने कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व के प्रति भी नाराजगी जाहिर की।

राणे ने कहा, 'मुझसे कहा गया था कि मुझे छह महीने में मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। लेकिन नौ साल में भी वादा नहीं निभाया गया।' वह सार्वजनिक रूप से दावा करते रहे हैं कि जब 2005 में वह शिवसेना छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे उस वक्त उन्हें मुख्यमंत्री पद देने का वादा किया गया था।

शिवसेना से मुख्यमंत्री रह चुके राणे ने कहा, 'मेरे साथ कांग्रेस में आए एक भी सहयोगी को विधायक नहीं बनाया गया।' हालांकि उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री ने मुझे सूचना दी है कि वह सोनिया गांधी से बात करेंगे और फिर उन्हें जानकारी देंगे। मैं उसके बाद अपने अगले कदम की घोषणा करूंगा।'

राणे ने मई में हुए आम चुनाव में रत्नागिरि-सिंधुदुर्ग लोकसभा सीट से अपने बेटे नीलेश की हार के बाद मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि, पार्टी ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया था। बहरहाल, उनका इस्तीफा स्वीकार होने या ना होने के बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement