NDTV Khabar

प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने की 56 विदेश यात्राएं, विपक्ष कुछ इस तरह उठाता रहा है सवाल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने की 56 विदेश यात्राएं, विपक्ष कुछ इस तरह उठाता रहा है सवाल

पीएम मोदी चार बार अमेरिका और नेपाल, जापान, रूस, अफगानिस्तान के दौरे पर गए हैं...

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मई 2014 में पदभार संभालने के बाद से 56 विदेश यात्राएं कीं. विदेश राज्य मंत्री वी.के. सिंह ने लोकसभा में बुधवार को एक प्रश्न के जवाब में कहा कि जून 2014 में अपने पहले भूटान दौरे के बाद मोदी चार बार अमेरिका और नेपाल, जापान, रूस, अफगानिस्तान और चीन के दौरे पर दो-दो बार गए. सितंबर 2014 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरे के साथ ही वाशिंगटन की अपनी द्विपक्षीय यात्रा की. वहीं, प्रधानमंत्री की विदेश यात्राएं हमेशा विपक्ष के निशाने पर रहीं. विपक्षी दलों ने कई बार 'कुछ दिन तो गुजारों देश में' जैसे स्लोगन से चुटकी ली.

सितंबर 2015 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के लिए न्यूयॉर्क का दौरा किया. इस दौरान वह फिर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से मिले. इसके बाद सेन जोस, कैलिफोर्निया चले गए, जहां वह फार्चून के शीर्ष 500 सीईओ से मिले. प्रधानमंत्री मोदी ने 2016 के वसंत में परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका का तीसरा दौरा किया. इस दौरान उन्होंने भारत की परमाणु सुरक्षा में वैश्विक साझेदारी के प्रति भारत की भूमिका और प्रतिबद्धता को उजागर किया. मोदी फिर से ओबामा के निमंत्रण पर जून 2016 में अमेरिका गए. इस दौरान उन्होंने अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित किया.

प्रधानमंत्री मोदी अगस्त 2014 में नेपाल के आधिकारिक द्विपक्षीय दौर पर रहे. यह 17 सालों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला दौरा था. इसके बाद फिर नवंबर 2014 में दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए उन्होंने नेपाल का दौरा किया. उन्होंने 2014 शरद ऋतु में जापान का दौरा किया, और फिर 2016 में वह वहां गए. दोनों बार वार्षिक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए गए.


प्रधानमंत्री जुलाई 2015 में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में उफा में भाग लेने के लिए रूस के दौरे पर गए. इसके बाद फिर दिसंबर 2015 में वार्षिक द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लेने रूस गए. मोदी दिसंबर 2015 में अफगानिस्तान की यात्रा पर गए. इसके बाद फिर जून 2016 में गए.

टिप्पणियां

प्रधानमंत्री ने मई 2015 में चीन की द्विपक्षीय यात्रा की. इसके बाद वह सितंबर 2016 में हांगझोऊ में जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने चीन गए.
मई 2015 में भारत-मंगोलिया के 60वीं कूटनीतिक वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री मंगोलिया गए. वह मंगोलिया की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. प्रधानमंत्री मार्च 2015 में सेशल्स की यात्रा पर गए. इसके बाद अगस्त 2015 में संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा पर गए. इसके अलावा दूसरे प्रमुख देशों में मोदी ने अप्रैल 2015 में कनाडा और नवंबर 2015 में ब्रिटेन का द्विपक्षीय दौरा किया. प्रधानमंत्री नवंबर 2014 में ऑस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन में जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने गए और फिर द्विपक्षीय दौरे के लिए रुक गए.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement